मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> मध्यप्रदेश में यहाँ से चुनावी शंखनाद कर सकते हैं राहुल गांधी

मध्यप्रदेश में यहाँ से चुनावी शंखनाद कर सकते हैं राहुल गांधी

नई दिल्ली 24 अगस्त 2018 । ‘मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस पूरी तरह तैयार है। पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी प्रदेश में विधानसभा चुनाव का शंखनाद ओंकारेश्वर या मैहर से सितंबर में कर सकते हैं। इसके लिए रणनीति बनाई जा रही है।’ यह बात प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष अरुण यादव ने  कहा कि विधानसभा चुनाव में कांग्रेस बेहतर प्रदर्शन करेगी और प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनेगी। प्रदेश में कांग्रेस के प्रति जनता का क्या विश्वास जाग रहा है? इस सवाल का जवाब देते हुए अरुण यादव ने कहा कि जनता मन बना रही है कि सरकार बदलना है।यादव ने कहा कि प्रदेश में भ्रष्टाचार, बेरोजगारी है। महिलाओं व मासूमों पर दुष्कर्म बढ़ रहे हैं। इससे जनता दुखी है।

वलसाड में बोले पीएम मोदी- अब बेईमानी बंद हुई

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी गुजरात के वलसाड में प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों को सार्टिफिकेट देने के बाद कहा कि उन्हें रक्षाबंधन के मौके पर तोहफा देकर काफी खुशी हुई है। उन्होंने कहा कि जब दिल्ली से एक रुपये निकलता है तो पूरा का पूरा गरीब तक पहुंचता है। पूरे सौ पैसे पहुंचते हैं। अब बेईमानी पूरी तरह से बंद हो गई है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि उन्होंन सरकारी ठेकेदारों पर नहीं बल्कि परिवार पर भरोसा किया। हमने बैंकों को गरीब के घर के आगे ला खड़ा किया है। उन्होंने कहा- “देश में एक समय था जब देश में बैंक तो थे लेकिन देश का गरीब बैंकों में प्रवेश नहीं कर पाता था और एक आज का समय है, हमनें बैंकों को ही गरीब के घर के सामने लाके खड़ा कर दिया है।” पीएम मोदी ने कहा कि देश के सामान्य लोगों के सपनों को पूरा करने के लिए हम लगातार प्रयास कर रहें है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सौभाग्य योजना से हर घर में बिजली कनेक्शन होगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने गृह राज्य गुजरात के वलसाड प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभान्वितों को सार्टिफिकेट दिया। वलसाड के कार्यक्रम में इस योजना के तहत पांच जिलों वलसाड, नवसारी, तापी, सूरत और डांग जिले के लाभार्थी जुटे। इस कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विभिन्न विकास कार्यक्रमों के तहत चुने गए लाभार्थियों को प्रमाणपत्र और रोजगार पत्र सौंपा। इन योजनाओं एवं कार्यक्रमों में दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना, मुख्यमंत्री ग्रामोदय योजना और राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन शामिल है।

प्रधानमंत्री का जूनागढ़ में कई विकास परियोजनाओं का शुभारंभ करने का कार्यक्रम है। वे गांधीनगर में गुजरात फारेंसिक साइंस यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह को संबोधित करेंगे। मोदी का गांधीनगर में राजभवन में श्रीसोमनाथ ट्रस्ट की बैठक में हिस्सा लेने का भी कार्यक्रम है। प्रधानमंत्री इस ट्रस्ट के एक न्यासी हैं ।

सूत्रों ने बताया कि केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत गुजरात में एक लाख से अधिक मकान तैयार हो गए हैं। इस कार्यक्रम के तहत लाभार्थी 26 जिलों में सामूहिक गृह प्रवेश का उत्सव मनाएंगे।

भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक 8 एवं 9 सितंबर को

भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक 8 एवं 9 सितंबर को दिल्ली में होने की संभावना है। यह बैठक 18 एवं 19 अगस्त को होनी थी लेकिन 16 अगस्त को भाजपा के शीर्ष नेता रहे पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन के कारण इसे स्थगित कर दिया गया था। वाजपेयी के सम्मान में सात दिन का राष्ट्रीय शोक घोषित किया गया था जो बुधवार समाप्त हुआ। पार्टी सूत्रों ने यहां बताया कि राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक की नई तारीख 8 एवं 9 सितंबर तय की गई है। बैठक कनॉट प्लेस के निकट नई दिल्ली नगरपालिक निगम परिषद (एनडीएमसी) के सभागार में होगी जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी मौजूद रहेंगे।

सूत्रों के मुताबिक पहले दिन राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक बुलाई गई है। इसमें सभी राष्ट्रीय पदाधिकारी, प्रदेश प्रभारी, सह प्रभारी, प्रदेश अध्यक्ष, प्रदेश महामंत्री (संगठन) मौजूद रहेंगे। यह बैठक सुबह 10 बजे शुरू होगी और अपराह्न 2 बजे तक चलेगी। इसके बाद राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक अपराह्न चार बजे से शुरू होगी। अगले दिन शाम पांच बजे समापन होगा। बैठक की अध्यक्षता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह करेंगे। राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक में प्रधानमंत्री मोदी सहित अन्य सभी वरिष्ठ पदाधिकारी मौजूद रहेंगे।

सूत्रों के मुताबिक राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक में प्रमुख एजेंडे पर विचार-विमर्श किया जाएगा। इसमें गत कार्यवाही की पुष्टि, पिछली बैठक से अब तक की प्रमुख गतिविधियों और कार्यक्रमों की जानकारी, संगठनात्मक विषयों पर चर्चा होगी। इसके अलावा राजनीतिक एवं आर्थिक प्रस्तावों पर चर्चा होगी और आगामी कार्यक्रमों की रूपरेखा तय की जाएगी। इसके अलावा भी अन्य कुछ विषयों पर भाजपा अध्यक्ष की अनुमति से चर्चा की जा सकती है।

अटल अस्थि कलश यात्रा में मंत्रियों के ठहाके, डांट पड़ी तब हुए चुप

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन के बाद उनके सम्मान में पूरे देश भर में बीजेपी अस्थि कलश यात्रा निकाल रही है. लेकिन इस शोकसभा में छत्तीसगढ़ के कृषि मंत्री ब्रजमोहन अग्रवाल और स्वास्थ्य मंत्री अजय चंद्राकर संवेदनाओं को भूल खूब ठहाके लगाते दिखे.

अटल अस्थि कलश यात्रा में मंत्रियों के ठहाके, डांट पड़ी तब हुए चुप

इस बीच दोनों मंत्रियों को देखकर बगल में बैठे भाजपा अध्यक्ष धरमलाल कौशिक असहज हुए और उन्हें डांट लगाई. इसके बाद मंत्री चुप हुए.

अटल अस्थि कलश यात्रा में मंत्रियों के ठहाके, डांट पड़ी तब हुए चुप
बताया जा रहा है कि यह घटनाक्रम उस समय हुआ जब अस्थि कलश यात्रा भाजपा कार्यालय एकात्म परिसर पहुंची. यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद लोग उनकी जमकर आलोचना कर रहे हैं.

मालूम हो कि छत्तीसगढ़ राज्य के सभी जिलों में अस्थि कलश यात्रा निकाली जा रही है और अस्थियां नदियों में विसर्जित की जाएगी.

अटल अस्थि कलश यात्रा में मंत्रियों के ठहाके, डांट पड़ी तब हुए चुप
अटल अस्थि कलश यात्रा में मंत्रियों के ठहाके, डांट पड़ी तब हुए चुप

आपको बता दें कि कल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में सभी बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष को अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियां सौंपी गई थी.

राहुल गांधी ने नियुक्त किए 8 नए सचिव, अल्पेश ठाकोर बिहार की जिम्मेदारी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने गुरुवार को आठ नए पार्टी सचिवों को नियुक्त किया है. इनमें गुजरात से कांग्रेस विधायक अल्पेश ठाकोर को बिहार का सचिव बनाया गया है. वहीं शकील अहमद को जम्मू-कश्मीर का सचिव नियुक्त किया गया है. कांग्रेस के महासचिव अशोक गहलोत के द्वारा जारी की गई चिट्ठी में सभी आठ सचिवों के नाम जारी किए गए हैं.इन सभी के अलावा रायबरेली सदर से विधायक अदिति सिंह को महिला कांग्रेस का महासचिव नियुक्त किया गया है.

नए सचिवों के नाम

शकील अहमद – जम्मू-कश्मीर

राजेश धमानी – उत्तराखंड

बीपी सिंह – पश्चिम बंगाल

मोहम्मद जावेद – पश्चिम बंगाल

शरत राउत – पश्चिम बंगाल

अल्पेश ठाकोर – बिहार

CVC रेड्डी – महाराष्ट्र

बीएम संदीप – महाराष्ट्र

श्यामला हिल्स बनेगा महाराज का परमानेंट निवास!

यह सच है कि अब महाराज भोपाल में परमानेंट निवास की तैयारी में है। उनका लक्ष्य झीलों की नगरी है यहां वह श्यामला हिल्स में परिवर्तन करने के लिए जी-तोड़ मेहनत करने में जुटे है।
मध्यप्रदेश में मामा के बाद सबसे लोकप्रिय कोई नेता है तो वह सिर्फ महाराज है। महाराज की लोकप्रियता का आलम यह है कि उनका जादू जनता के सिर पर चढ़कर बोलता है। जनता में महाराज इतने लोकप्रिय है कि विपक्षी भी सिर्फ उन्हें महल का कहकर ही विरोध कर पाता है।  पूरे प्रदेश में रोड-शो और परिवर्तन रैली में महाराज के लिए उमड़ रही भारी संख्या में जनता उन्हें श्यामला हिल्स में पहुंचाने के लिए उत्सुक दिख रही है। भीड़ का आलम यह है कि हर कोई उनमे अपना भविष्य देख रहा है।
वहीं अब महाराज भी उमड़ती जनभावनाओं से उत्साहित है और भोपाल में परमानेंट निवास की तैयारी में है। वह श्यामला हिल्स भी हो सकता है, क्योंकि जन समूह उमड़ रहा है। मंदसौर की परिवर्तन रैली में लगभग 50 हजार लोग आये थे। इसी प्रकार अन्य जगहों पर भी भीड़ का आलम किसी से छिपा नहीं। गत रोज महाकाल की सवारी के स्वागत के दौरान भी भारी संख्या में लोगों के हुजूम से महाराज घिरे रहे। यहां बता दें कि महाराज उज्जैन किसी भी विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने का ऐलान कर चुके है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

टी-20 वर्ल्ड कप के लिए भारत के गेम प्लान पर बोले कोच रवि शास्त्री- खिलाड़ियों को ज्यादा तैयारी की जरूरत नहीं

नई दिल्ली 19 अक्टूबर 2021 । भारतीय क्रिकेट टीम को टी-20 वर्ल्ड कप में अपना …