मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> जमानत मिलने के बाद डोसा खाने पहुंचे राहुल गांधी, 2100 के बिल पर वेटर को 1000 रुपये दिए टिप

जमानत मिलने के बाद डोसा खाने पहुंचे राहुल गांधी, 2100 के बिल पर वेटर को 1000 रुपये दिए टिप

नई दिल्ली 07 जुलाई 2019 । कांग्रेस नेता राहुल गांधी मानहानि के मामले में आज पटना सिविल कोर्ट में पेश हुए, जहां उन्हें जमानत मिल गई. 10 हजार रुपये के निजी मुचलके पर राहुल गांधी को जमानत मिली. बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कांग्रेस नेता के खिलाफ मानहानि का केस दायर किया था.

राहुल गांधी के पटना कोर्ट में पेशी के दौरान लगभग 500 की संख्या में पुलिसकर्मियों को उनकी सुरक्षा और यातायात व्यवस्था संभालने के लिए लगाया गया था। उनकी अगवानी के लिए काफी संख्या में कांग्रेसी कार्यकर्ता और नेता एयरपोर्ट से लेकर कोर्ट के बाहर और परिसर के अंदर मौजूद थे।

इस दौरान उन लोगों ने राहुल गांधी जिंदाबाद और अपना इस्तीफा वापस लें के नारे भी लगाए। सिविल कोर्ट से राहत मिलने के बाद राहुल गांधी लंच करने पटना के एक रेस्टोरेंट पहुंचे. वह उन्होंने डोसा खाया. उनके साथ कांग्रेस के नेता शक्तिसिंह गोहिल और प्रेमचंद्र मिश्रा भी थे। राहुल गांधी अचानक रेस्टोरेंट पहुंचे और वहां उपस्थित लोगों से भी बातचीत की।

लगभग 2:30 बजे वे यहां पहुंचे थे और आधा घंटा लंच करने के बाद 3:00 बजे वहां से निकल गए। उनके साथ 10 -15 लोग मौजूद थे। लंच में राहुल गांधी ने ओनियन रावा मशाल डोसा, इडली बड़ा, इडली बड़ा मिक्स, फ्रेश लेमन सोडा, डायट कोक और कॉफी ली। टोटल बिल ₹ 2100 सौ हुआ। खाना खाने के बाद वहां से निकलने के दौरान उन्होंने वेटर को टिप ₹1000 दिए। पूछने पर उन्होंने कहा यहां का खाना और इसका स्वाद बहुत उन्हें पसंद आया ।यदि दोबारा मौका मिला तो यहां आना जरूर पसंद करेंगे।

इससे पहले जमानत मिलने के बाद राहुल गांधी ने कहा कि संविधान बचाने के लिए हमारी लड़ाई जारी रहेगी. इसके लिए जहां भी जरूरत पड़ेगी, मैं वहां वहां जाता रहूंगा. पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि जो भी आरएसएस और नरेंद्र मोदी के खिलाफ खड़ा होगा, वह उनके विचारधारा के खिलाफ होगा. कोर्ट केस उनके गाल पर तमाचा है. मेरी लड़ाई संविधान, गरीबों और किसानों को बचाने की है.

कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने विरोधियों पर बेवजह परेशान करने का आरोप लगाते हुए ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने लिखा है कि मैं आज दोपहर 2 बजे पटना में सिविल कोर्ट में व्यक्तिगत रूप से पेश होऊंगा। मेरे खिलाफ आरएसएस / भाजपा, मेरे राजनीतिक विरोधियों द्वारा मुझे लगातार परेशान किया जा रहा है जिसमें मुझे डराने के लिए पटना में एक और मामला दायर किया गया है। सत्यमेव जयते।

सुशील मोदी ने दायर किया था मानहानि का मुकदमा

बता दें कि बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने जातिगत टिप्पणी किए जाने को राहुल गांधी के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर किया था और इस मामले की सुनवाई आज पटना के एमपी एमएलए कोर्ट में होगी,जिसमें राहुल गांधी को कोर्ट में उपस्थित होना था।

राहुल गांधी ने पूछा था-भी चोरों का उपनाम मोदी क्यों है?

दरअसल, राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान 13 अप्रैल को कर्नाटक के बेलूर क्षेत्र के ककोर में हुई एक चुनावी जनसभा में मोदी उपनाम वालों के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। राहुल गांधी ने मंच से पूछा था कि सभी चोरों का उपनाम मोदी क्यों है? राहुल की इस टिप्पणी के बाद बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने उनके खिलाफ पटना के कोर्ट में केस दर्ज करवाया था।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

किश्तवाड़ में बादल फटने से पांच की मौत, 40 से ज्यादा लोग लापता

नई दिल्ली 28 जुलाई 2021 ।  जम्मू-कश्मीर में भारी बारिश का कहर देखने को मिला …