मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> राहुल-प्रियंका व मोदी इन सीटों से लड़ सकते हैं लोकसभा का चुनाव

राहुल-प्रियंका व मोदी इन सीटों से लड़ सकते हैं लोकसभा का चुनाव

नई दिल्ली 28 जनवरी 2019 । प्रियंका गांधी की सक्रिय राजनीति में इंट्री का सबसे अधिक झटका लगा है भाजपा को, प्रियंका को पूर्वी उत्तर प्रदेश की कमान मिलने के साथ ही भाजपा को उत्तर प्रदेश में अपना किला ढहता हुआ आ रहा है नजर, नतीजा भाजपा के नेता इन दिनों कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को छोड़कर प्रियंका गांधी व रॉबर्ट वाड्रा पर हो गई है सबसे अधिक हमलावर, अब राजनीतिक गलियारे यह बड़ी खबर आ रही है कि राहुल गांधी के साथ प्रियंका गांधी भी लड़ेंगी लोकसभा का चुनाव, प्रियंका की नजर है वाराणसी की सीट, लिहाजा भाजपा पीएम नरेंद्र मोदी के लिए जुट गई है आसान सीट की तलाश में, चर्चा चल रही है पीएम मोदी वाराणसी की बजाय बिहार के पटना साहिब सीट या उड़ीसा की किसी सीट से लड़ सकते हैं लोकसभा का चुनाव, वहीं राहुल गांधी के छिंदवाड़ा लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने की है चर्चा, अगर ऐसा हुआ तो अमेठी से कांग्रेस प्रियंका गांधी को उतारेगी मैदान में…

प्रियंका गांधी (फोटो : गूगल )
भाजपा के नेता इन दिनों खुलकर कह रहे हैं कि प्रियंका गांधी को महासचिव बनाने के साथ ही पूर्वी उत्तर प्रदेश की जिम्मेदारी सौंपने का सीधा मतलब है कि कांग्रेस की नैया पार लगाना राहुल के बस की बात नहीं है। यही वजह है कि कांग्रेस ने पीएम मोदी और भाजपा को शिकस्त देने के लिए अपना आखिरी पत्ता भी खेल दिया। कांग्रेस के नेता यह दलील दे रहे हैं कि पूर्वी उत्तर प्रदेश भाजपा का गढ़ है। वहां पर प्रियंका का जादू चलेगा तो भाजपा के लिए मिशन 2019 को पूरा कर पाना कठिन हो जाएगा। सपा और बसपा अपने महागठबंधन में भले ही कांग्रेस को साथ ना लें लेकिन कांग्रेस मुलायम सिंह यादव के परिवार के लिए सीटें छोड़ेगी। मतलब जहां मुलायम के परिवार के लोग चुनाव लड़ेंगे वहां कांग्रेस अपने प्रत्याशी नहीं उतारेगी। ऐसा करके कांग्रेस बैक डोर से उत्तर प्रदेश में सपा और बसपा के गठबंधन में घुसने की जुगत लगा रही है।

राहुल गांधी (फोटो : गूगल)
राहुल गांधी अगर अमेठी की बजाए छिंदवाड़ा से चुनाव लड़ेंगे तो प्रियंका गांधी को यहां से लड़वाया जाएगा। इससे कांग्रेस के पास यह कहने का तर्क रहेगा कि राहुल गांधी ने अपनी बहन प्रियंका के लिए अमेठी की सीट छोड़ दी है। ऐसा होने पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कलमनाथ की लोकसभा सीट छिंदवाड़ा से कांग्रेस को राहुल गांधी के रूप में एक मजबूत उम्मीदवार मिल जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सीधे तौर पर टारगेट करने के लिए कांग्रेस थिंक टैंक प्रियंका को वाराणसी से भी चुनाव लड़ने पर विचार कर रहा है कांग्रेस का मानना है कि वाराणसी में प्रियंका गांधी के मजबूत दावेदारी के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भी अधिक समय देश के अन्य राज्यों की बजाय वाराणसी नहीं बीतेगा। पीएम मोदी के एक ही सीट पर घिर जाने की वजह से कांग्रेस पूरे देश में भाजपा को घेरने में सफल हो जाएगी। इसी बीच भाजपा खेमे से खबर आ रही है कि पार्टी पीएम मोदी को वाराणसी के साथ बिहार में पटना साहिब या उड़ीसा की किसी लोकसभा सीट से भी चुनाव मैदान में उतारेगी।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

टूटे सारे रिकॉर्ड, 10 बिंदुओं में जानिए क्यों आ रहा जोरदार उछाल

नई दिल्ली 24 सितम्बर 2021 । घरेलू शेयर बाजार में शानदार तेजी का सिलसिला जारी …