मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> राहुल ने कहा – सैम पित्रोदा, आपको खुद पर शर्म आनी चाहिए

राहुल ने कहा – सैम पित्रोदा, आपको खुद पर शर्म आनी चाहिए

नई दिल्ली 17 मई 2019 । लोकसभा चुनाव 2019 के छह चरण का मतदान पूरा हो चुका है. अब 19 मई को होने वाले आखिरी चरण के मतदान से पहले सभी पार्टियां मतदाताओं को अपनी तरफ खींचने के लिए पूरी ताकत झोंक रही हैं. इस बीच कांग्रेस को अपने ही एक वरिष्ठ नेता का बयान भारी पड़ रहा है. बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सैम पित्रोदा के सिख दंगे पर दिए बयान को लेकर हर जनसभा में तंज कस रहे हैं. दरअसल, सैम ने 84 दंगे पर कहा था, ‘हुआ तो हुआ.’

सैम के इस बयान ने कांग्रेस की इतनी फजीहत करा दी कि उन्हें माफी मांगनी पड़ गई. बावजूद इसके पीएम मोदी और बीजेपी अब भी सैम पित्रोदा के बयान को लेकर कांग्रेस पर निशाना साध रहे हैं. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को डैमेज कंट्रोल के लिए एक बार फिर कहा कि सैम पित्रोदा को अपने बयान पर शर्म आनी चाहिए. उन्हें देश से माफी मांगनी चाहिए.

पूरी तरह गलत है सैम पित्रोदा का बयान

राहुल गांधी ने पंजाब के फतेहगढ़ साहिब लोकसभा क्षेत्र में आयोजित जनसभा में कहा कि सैम पित्रोदा ने 1984 के सिख विरोधी दंगों के बारे में जो भी कहा, वो पूरी तरह गलत है. उन्हें अपने बयान के लिए पूरे देश से माफी मांगनी चाहिए. कांग्रेस अध्यक्ष ने बताया कि उन्होंने सैम पित्रोदा को फोन करके भी यही बात कही थी. राहुल ने बताय, ‘मैंने उनसे कहा कि पित्रोदा जी आपने जो कहा वह गलत है. आपको खुद पर शर्म आनी चाहिए. आपको लोगों से माफी मांगनी चाहिए.’ जनसभा में पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह भी मौजूद थे.

हर रैली में कांग्रेस पर निशाना साध रहे पीएम

बीजेपी ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता के 84 सिख दंगे को लेकर दिए बयान पर आक्रामक रुख अख्तियार कर लिया है. पीएम मोदी ने हरियाण के रोहतक और पंजाब के होशियापुर की रैलियों में सैम के बयान के हवाले से कांग्रेस पर तीखा हमला किया था. उन्होंने कहा कि सैम की टिप्पणी से विपक्षी दल का चरित्र और अहंकार स्पष्ट हो गया है. पंजाब में यह मामला काफी संवेदनशील है. राज्य में 19 मई को मतदान होगा.

जम्मू-कश्मीर के बारामूला में पत्थरबाजों ने 47 सुरक्षाकर्मियों को किया घायल

जम्मू-कश्मीर के बारामूला में एक बार फिर पत्थरबाजी की खबर है. यहां पर उपद्रवियों ने सुरक्षा में तैनात सुरक्षाबलों पर पत्थर से हमला कर दिया, जिसमें 47 सुरक्षाकर्मी घायल हो गए. घायलों में सहायक कमांडेंट भी शामिल है. घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंचे सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके को घेर लिया है. बारामूला में अभी भी स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है.

जानकारी के मुताबिक जम्मू-कश्मीर के बारामूला में पिछले कुछ दिनों से स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है. मामले की गंभीरता को देखते हुए राष्ट्रीय राजमार्ग पर सुरक्षाबलों की संख्या बढ़ा दी गई थी. सोमवार की दोपहर अचानक लोग सड़क पर उतर आए और उन्होंने सुरक्षाबलों ने पत्थर फेंकने शुरू कर दिए.

इस हमले में 47 सुरक्षाकर्मी घायल हो गए. घायलों में कई की हालत गंभीर बताई जा रही है. सभी घायलों को निकट के अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है. मामले की गंभीरता को देखते हुए इलाके में और भी सुरक्षाकर्मियों की संख्या को बढ़ा दिया गया है.

इससे पहले भी जम्‍मू कश्‍मीर ऐसे घटनाएं सामने आती रही हैं. कुछ दिन पहले ही बडगाम में हुई मुठभेड़ में दो आतंकियों के मारे जाने के बाद हिंसा भड़क गई. स्‍थानीय लोगों ने पत्‍थरबाजी शुरू कर दी. जिसमें एएनआई की ओबी वैन क्षतिग्रस्‍त हो गई थी.

जब पंजाब लड़ रहा था आजादी की लड़ाई, RSS कर रहा था चमचागीरी

प्रियंका गांधी पंजाब में चुनाव प्रचार करने पहुंची. बठिंडा में रैली के दौरान उन्होंने आरएसएस पर जमकर निशाना साधा. जनसभा को संबोधित करते हुए प्रियंका ने कहा ‘जब पूरा पंजाब देश की आजादी की लड़ाई लड़ रहा था, आरएसएस के लोग अंग्रेजों की चमचागीरी कर रहे थे, उन्होंने आजादी के आंदोलन में कोई लड़ाई नहीं लड़ी.’ प्रियंका गांधी वाड्रा ने ‘बादल’ वाली टिप्पणी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी निशाना साधा और कहा कि मोदी का सच अब ‘लोगों के रडार’ पर है.

गौरतलब है कि मोदी ने पिछले दिनों एक न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा था कि पाकिस्तान के बालाकोट में भारतीय वायुसेना के हवाई हमले के दौरान खराब मौसम के कारण आसमान में बादल होने की वजह से भारतीय विमानों को पाकिस्तान के रेडार से बचने में मदद मिली. मोदी ने कहा कि उन्होंने ही रक्षा विशेषज्ञों को सलाह दी थी कि खराब मौसम के बावजूद वे हमले का दिन नहीं टालें, क्योंकि बादल घिरे होने की वजह से भारतीय विमानों को पाकिस्तान के रेडार से बच निकलने में मदद मिलेगी.

बठिंडा में रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस महासचिव ने आरोप लगाया कि मोदी सिर्फ प्रचार-दुष्प्रचार में लगे रहते हैं, बड़े-बड़े वादे करते हैं और दिखाते हैं कि पिछले 70 साल में कोई विकास ही नहीं हुआ. प्रियंका ने कहा कि मोदी ने दो करोड़ नई नौकरियां देने का अपना वादा नहीं निभाया. पिछले पांच साल में 12,000 किसानों ने खुदकुशी कर ली, लेकिन मोदी किसानों की अनदेखी करते हैं. मौजूदा लोकसभा चुनाव ‘लोकतंत्र और देश बचाने’ का चुनाव है.

साल 2015 में सिखों के धार्मिक ग्रंथों की बेअदबी के मामले को लेकर प्रियंका ने पंजाब की पिछली शिरोमणि अकाली दल-बीजेपी सरकार पर हमला बोला और दावा किया कि यह ‘राजनीतिक लाभ’ के लिए कराया गया था. पंजाब की सभी 13 लोकसभा सीटों पर सातवें और आखिरी चरण में 19 मई को मतदान होना है.

प्रियंका के रोडशो में ‘मोदी-मोदी’

प्रियंका गांधी अपने शालीन स्वभाव के चलते खबरों में हैं. सातवें चरण के रण के लिए प्रियंका गांधी मध्य प्रदेश में चुनाव प्रचार करने पहुंची थीं. इस दौरान इंदौर में प्रियंका के रोड शो में अलग नजारा देखने को मिला. प्रियंका गांधी का रोड शो गुजर रहा था तो इस दौरान मोदी-मोदी के नारे लगने लगे. इस दौरान प्रियंका गांधी ने अपनी गाड़ी रुकवाई और लोगों से मिलने के लिए गाड़ी से बाहर आ गईं. हाथ मिलाया और कहा- आप अपनी जगह और मैं अपनी जगह, ऑल द बेस्ट. नारे लगाने वाले लोग प्रियंका गांधी को देखकर दंग रह गए.

इस वीडियो को कांग्रेस ने ट्विटर पर भी शेयर किया है. वीडियो शेयर करते हुए कांग्रेस ने नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है. कांग्रेस ने लिखा, ‘इंदौर में कुछ लोगों ने प्रायोजित तरीक़े से मोदी-मोदी के नारे लगाए तो प्रियंका गांधी ने कार से उतर कर नारे लगाने वालों से हाथ मिलाया और कहा- आप अपनी जगह, मैं मेरी जगह आल दी बेस्ट. इसे कहते हैं देश की मिट्टी, देश की जनता और देश के कण-कण से प्यार. काश…मोदी भी देश को समझ पाते.’

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

राहुल ने जारी किया श्वेतपत्र, बोले- तीसरी लहर की तैयारी करे सरकार

नई दिल्ली 22 जून 2021 । कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस …