मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> राफेल पर राहुल का सवाल- अनिल अंबानी को 10 दिन पहले कैसे पता थी डील की बात?

राफेल पर राहुल का सवाल- अनिल अंबानी को 10 दिन पहले कैसे पता थी डील की बात?

नई दिल्ली 13 फरवरी 2019 । कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज राफेल डील पर एक लीक ईमेल का हवाला देते हुए पीएम मोदी पर गोपनीयता कानून उल्लंघन का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि एयरबस कंपनी के एक कर्मचारी ने ईमेल लिखा है कि फ्रांस के डिफेंस मिनिस्टर के ऑफिस में अनिल अंबानी ने 10 दिन पहले ही डील होने का ऐलान कर दिया था। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि पीएम मोदी पर अब भ्रष्टाचार का ही नहीं बल्कि ऑफिशल सीक्रेट ऐक्ट के उल्लंघन का भी आरोप है।

कांग्रेस अध्यक्ष ने राफेल डील में पीएम मोदी पर पद और गोपनीयता की शपथ को भंग करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा, ‘अनिल अंबानी फ्रांस के रक्षा मंत्रालय में गए थे और उस मीटिंग में साफ बोला कि मोदी फ्रांस आएंगे तो एमओयू साइन होगा। इस एमओयू में में अनिल अंबानी का नाम होगा। फॉरेन सेक्रेटरी को नहीं मालूम, रक्षा मंत्री को नहीं मालूम, एचएएल को नहीं मालूम, फॉरेन सेक्रेटरी कह रहे हैं कि डील पर चर्चा हो रही है, लेकिन डील होने के 10 दिन पहले अनिल अंबानी को मालूम है।’

‘पीएम ने अंबानी के बिचौलिए का काम किया’
राफेल डील में अब तक कांग्रेस भ्रष्टाचार के आरोप लगा रही थी, लेकिन आज कांग्रेस अध्यक्ष ने पीएम मोदी को गोपनीयता कानून तोड़ने का आरोपी बताया। उन्होंने कहा, ‘नरेंद्र मोदी राफेल डील में मिडिल मैन का काम कर रहे हैं। अनिल अंबानी को किसने बताया? अगर प्रधानमंत्री ने यह किया तो यह ऑफिशल सीक्रेट ऐक्ट का उल्लंघन है। इसके तहत उन पर तत्काल कार्रवाई होनी चाहिए, यह भ्रष्टाचार का मामला भर नहीं है। पहले यह भ्रष्टाचार का मामला था यह अब ऑफिशल सीक्रेट ऐक्ट का मामला है। उन्होंने प्रधानमंत्री के पद की शपथ लेते वक्त पद और गोपनीयता की शपथ ली थी, अंडर ओथ में हैं और देश के सीक्रेट अनिल अंबानी को दे रहे हैं।’

कांग्रेस अध्यक्ष बोले, प्रधानमंत्री को जेल जाना चाहिए
राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर कार्रवाई की मांग करते हुए यह भी कहा कि कैग रिपोर्ट बेमानी है। उन्होंने कहा, ‘डील से जुड़े सीक्रेट साझा करने के लिए प्रधानमंत्री को जेल जाना चाहिए। सीएजी रिपोर्ट चौकीदार ऑडिटर जनरल रिपोर्ट है। यह मोदी की रिपोर्ट है जिसे चौकीदार ने बनाई, चौकीदार के लिए बनाई। सुप्रीम कोर्ट में सरकार ने कैग रिपोर्ट का हवाला दिया था, लेकिन कैग रिपोर्ट तब थी ही नहीं। सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में भी झूठ बोला।’

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि वह कैग संस्था में अविश्वास नहीं जता रहे, इस रिपोर्ट को बेमानी बता रहे हैं। राहुल ने कहा कि विपक्ष के जितने नेता हैं उन पर जितनी मर्जी जांच होनी चाहिए, लेकिन राफेल मामले की भी जांच हो। उन्होंने कहा, ‘पीएम मोदी जेपीसी बिठा दो क्यों घबरा रहे हो क्योंकि आप शामिल हैं। हमारे ऊपर जो जांच करानी है कर लो। हम किसी जांच से नहीं घबराते, मोदीजी जांच से डर रहे हैं।

Twitter पर आते ही प्रियंका गांधी की धूम, जानिए- किन 7 लोगों को कर रहीं फॉलो

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा सोमवार को पहली बार लखनऊ में रोड शो कर रही हैं. इस दौरान प्रियंका गांधी के साथ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और पश्चिम यूपी के प्रभारी ज्योतिरादित्य सिंधिया भी साथ हैं. रोड शो से पहले प्रियंका गांधी वाड्रा ने सोशल मीडिया पर दस्तक दी है. कांग्रेस की ओर से सुबह ट्वीट कर बताया गया कि प्रियंका गांधी अब ट्विटर पर आ गई हैं. प्रियंका के ट्विटर पर आते ही धूम मच गई. सोमवार 12:53 बजे तक ट्विटर पर उनके 28 हजार फॉलोवर्स हो चुके हैं.

प्रियंका गांधी ने अभी तक इस अकाउंट से कोई ट्वीट नहीं किया गया है और वह सात लोगों को फॉलो कर रही हैं. इनमें कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, कांग्रेस का अधिकारिक अकाउंट, अहमद पटेल, रणदीप सिंह सूरजेवाला, ज्योतिरादित्य सिंधिया शामिल हैं. इसके साथ ही सोमवार 12:53 बजे तक उनके आधिकारिक ट्विटर हैंडल @priyankagandhi पर 28 हजार से ज्यादा फॉलोवर्स हो चुके थे.

गौरतलब है कि प्रियंका गांधी वाड्रा को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव के लिए पूर्वी उत्तर प्रदेश का प्रभारी नियुक्त किया था. उन्हें कांग्रेस महासचिव का दर्जा दिया गया है. वहीं महासचिव का पद संभालने के बाद प्रियंका गांधी पहली बार लखनऊ में रोड शो करने जा रही हैं. 9 घंटे के इस रोड शो में प्रियंका के साथ उनके भाई और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और पश्चिमी यूपी के प्रभारी महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया होंगे.

प्रियंका गांधी का रोड शो एयरपोर्ट से शुरू होकर कांग्रेस पार्टी के मुख्यालय तक जाएगा. इस दौरान 30 जगहों पर प्रियंका गांधी का काफिला रुकेगा, रोड शो से पहले राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए कहा, “लखनऊ आ रहा हूं. प्रियंका गांधी वाड्रा जी और ज्योतिरादित्य सिंधिया जी साथ होंगे. दोपहर करीब 12 बजे, लखनऊ के हवाई अड्डे से पार्टी मुख्यालय तक रोड-शो का आयोजन किया गया है.

JDS MLA का दावा- BJP से मिली थी 5 करोड़ की रिश्वत, CM के कहने पर लौटाई

कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्‍वामी के बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष बीएस येदियुरप्‍पा की आवाज वाले कथित ऑडियो टेप की रिलीज के एक दिन बाद जेडीएस के एक विधायक ने बड़ा दावा किया है. जेडीएस विधायक श्रीनिवास गौड़ा का आरोप है कि उन्हें पार्टी बदलने के लिए बीजेपी की ओर से 5 करोड़ रुपये ऑफर दिए गए थे. लेकिन, सीएम कुमारस्वामी के कहने पर उन्होंने तत्काल रुपये वापस कर दिए.

इसके पहले कुमारस्‍वामी ने आरोप लगाया था कि बीजेपी नेता बीएस येदियुरप्‍पा अभी भी विधायकों की खरीद-फरोख्‍त में लगे हुए हैं. उन्होंने अपने दावे को सही साबित करने के लिए एक ऑडियो क्‍लिप भी जारी किया है. इसमें येदियुरप्‍पा कथित रूप से जेडीएस विधायक को 25 लाख रुपये और मंत्री पद देने का ऑफर कर रहे हैं. कोलार से जेडीएस एमएलए श्रीनिवास गौड़ा ने आरोप लगाया है बीजेपी नेता, विधायक अश्वतनारायण, सीपी योगेश्वर और विश्वनाथ ने उन्हें कुल 30 करोड़ का लालच दिया था. विधायक का दावा है कि एडवांस के तौर पर 5 करोड़ रुपये भी मिल चुके थे. शर्त थी कि जब वह बीजेपी में शामिल होंगे, तब बाकी के पैसे भी मिल जाएंगे.

सीएम कुमारस्वामी की सलाह पर विधायक ने पूर्व डिप्टी सीएम आर अशोक के जरिए 5 करोड़ रुपये लौटाए. श्रीनिवास का कहना है कि यह पेशकश करीब दो महीने पहले की गई थी. तब से बीजेपी नेता पार्टी बदलने के लिए उन पर दबाव बना रहे हैं.

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

मिंटो हॉल का नाम अब BJP के पूर्व अध्यक्ष कुशाभाऊ ठाकरे पर, सीएम शिवराज सिंह चौहान का ऐलान

भोपाल 27 नवंबर 2021 । मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने ऐलान किया है …