मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> रवि दहिया ने जीता लगातार तीसरा गोल्ड, बजरंग पुनिया को सिल्वर से करना पड़ा संतोष

रवि दहिया ने जीता लगातार तीसरा गोल्ड, बजरंग पुनिया को सिल्वर से करना पड़ा संतोष

नयी दिल्ली 23 अप्रैल 2022 । ओलंपिक पदक विजेता रवि दहिया और बजरंग पुनिया ने शनिवार को मंगोलिया के उलानबटार में एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप में क्रमश: स्वर्ण और रजत पदक जीता जबकि नवीन ने कांस्य पदक जीता। टोक्यो ओलंपिक के रजत पदक विजेता रवि दहिया ने कजाकिस्तान के कलज़ान राखत को आभासी श्रेष्ठता (12-2) से हराकर 57 किग्रा पुरुषों का फ्रीस्टाइल स्वर्ण पदक जीता। कॉन्टिनेंटल इवेंट में रवि का यह लगातार तीसरा गोल्ड मेडल है। हालांकि, टोक्यो ओलंपिक के कांस्य पदक विजेता बजरंग पुनिया 65 किग्रा फाइनल में ईरान के रहमान मौसा अमौजदखलीली से 1-3 से हार गए। यह उनका सत्र का दूसरा फाइनल था। उन्होंने फरवरी में डान कोलोव स्पर्धा में रजत पदक जीता था।

70 किग्रा कांस्य पदक के प्लेऑफ में, नवीन ने स्थानीय पहलवान तेमुउलेन एनखतुया के खिलाफ 4-0 की बढ़त बना ली और पहले दौर में ही मुकाबला समाप्त करने के लिए मंगोलियाई को पिन किया। रवि दहिया के मुकाबले की बात करें तो खिताबी भिड़ंत में कलजान ‘टेक डाउन’ से आगे हो गये थे और काफी समय तक उन्होंने भारतीय पहलवान को कोई अंक नहीं लेने दिया। लेकिन अपनी शैली के अनुरूप रवि ने तकनीकी श्रेष्ठता की बदौलत मुकाबले पर दबदबा बनाना शुरू कर दिया। उन्होंने छह लगातार ‘टू-प्वाइंटर’ हासिल किये और इस दौरान खुद को ‘लेफ्ट-लेग अटैक’ से भी बचाया जिससे यह मुकाबला दूसरे पीरियड के शुरू में ही खत्म हो गया और भारत ने इस साल टूर्नामेंट का पहला स्वर्ण पदक जीत लिया। रवि ने दिल्ली में 2020 चरण में और पिछले साल अलमाटी में भी स्वर्ण पदक जीता था।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

ज्ञानवापी मस्जिद का सर्वे पूरा, हिंदू पक्ष ने किया दावा-‘बाबा मिल गए’; कल कोर्ट में पेश होगी रिपोर्ट

नयी दिल्ली 16 मई 2022 । ज्ञानवापी मस्जिद का सर्वे पूरा हो गया है। तीसरे …