मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> नकदी संकट दूर के लिए RBI ने बाजार में डाले 50 हजार करोड़ रुपये

नकदी संकट दूर के लिए RBI ने बाजार में डाले 50 हजार करोड़ रुपये

नई दिल्ली 24 मार्च 2020 । भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने सोमवार को बाजार में नकदी संकट को दूर करने के लिए टर्म रेपो ऑपरेशन प्रक्रिया के तहत 50 हजार करोड़ रुपये डाले. आरबीआई ने कहा कि इतनी ही राशि की दूसरी किस्त मंगलवार को उपलब्ध कराई जाएगी.

आरबीआई ने अपने बयान में कहा कि कोरोना वायरस की वजह से बनी परिस्थिति में बाजार की नकदी जरूरतों को पूरा करने के लिए रेपो ऑक्शन करने का फैसला किया गया है. यह रेपो ऑक्शन 1 लाख करोड़ रुपये का होगा और इसे दो समान किस्तों में डाला जाएगा. इसके अलावा RBI ने कहा कि बाजार की नकदी जरूरतों की पूर्ति के लिए आरबीआई कदम उठाता रहेगा.

नकदी संकट को लेकर RBI सक्रिय

दरअसल, आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास ने 16 मार्च को कहा था कि रिजर्व बैंक ने और अधिक लॉन्ग टर्म रेपो ऑपरेशन (एलटीआरओ) को लागू करने का फैसला किया है. ताजा रेपो ऑपरेशन से बाजार में कुल एक लाख करोड़ रुपये डाले जाएंगे.
इसे पढ़ें: क्या शेयर बाजार भी होगा लॉकडाउन? कोरोना अटैक से बचाने के 2 विकल्प

इसके अलावा आरबीआई ने सोमवार को कहा कि 15 हजार करोड़ रुपये की सरकारी प्रतिभूतियों की खरीदारी के लिए ओपन मार्केट ऑपरेशन (OMO) की दूसरी किस्त को समय से पहले 26 मार्च को अंजाम दिया जाएगा.

कोरोना की वजह से नकदी संकट

रिजर्व बैंक ने जारी किये गये एक वक्तव्य में कहा कि किसी भी नकद धन की जरूरत को पूरा करने के लिये पहले से ही उपाय किये जा रहे हैं. कोरोना वायरस की वजह से किसी भी तरह की तंगी को दूर करने के लिये यह कदम उठाया जा रहा है. RBI ने कहा कि उसकी यह पहल बैंकों को सस्ती दर पर धन उपलब्ध कराना है. इससे बैंकिंग प्रणाली में नकदी की उपलब्धता सुनिश्चित होगी.

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

अमेरिका के आगे झुका पाकिस्तान, अफगानिस्तान में हमलों के लिए देगा एयरस्पेस

नई दिल्ली 23 अक्टूबर 2021 । जो बाइडेन प्रशासन ने कहा है कि अमेरिका अफगानिस्तान …