मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> देश की सबसे बड़ी कंपनी बनी रिलायंस इंडस्ट्रीज

देश की सबसे बड़ी कंपनी बनी रिलायंस इंडस्ट्रीज

नई दिल्ली 24 अगस्त 2018 । रिलायंस इंडस्ट्रीज देश की सबसे बड़ी कंपनी बन गई है. गुरुवार को कंपनी का मार्केट कैप्टलाइजेशन 8 लाख करोड़ रुपए हो गया. ऐसा मुकाम हासिल करने वाली देश की पहली कंपनी बन गई है. मार्केट कैपिटलाइजेशन के मामले में रिलायंस ने टीसीएस को पीछे छोड़ा है. टीसीएस (टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेस) का मार्केट कैप 7.78 लाख करोड़ रुपये है. एक्सपर्ट्स का मानना है कि रिलायंस के पहली तिमाही (अप्रैल-जून 2018) नतीजे (आमदनी और मुनाफा) अनुमान से बेहतर रहे है. इसीलिए कंपनी के शेयर में तेजी देखने को मिल रही है.

इस वजह से हासिल किया यह मुकाम- गुरुवार को शेयर बाजार में रिलायंस इंडस्ट्री के शेयर में आई तेजी की वजह से कंपनी ने यह कीर्तिमान बनाया है. कंपनी के शेयर ने जैसे ही 1262 रुपए की रिकॉर्ड ऊंचाई को छुआ वैसे ही कंपनी का बाजार मूल्य बढ़कर 8 लाख करोड़ रुपए को पार कर गया. बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज पर 5000 से ज्यादा कंपनियां लिस्ट हैं और उन सबका कुल बाजार मूल्य लगभग 157 लाख करोड़ रुपए है, इस 157 लाख करोड़ रुपए में से अकेली रिलायंस इंडस्ट्री का बाजार मूल्य 8 लाख करोड़ रुपए है.

देश की टॉप-10 कंपनियां- रिलायंस इंडस्ट्री के बाद दूसरे नंबर पर टाटा ग्रुप की कंपनी TCS है जिसका बाजार मूल्य लगभग 7.78 लाख करोड़ रुपए हो गया है. तीसरे नंबर पर 5.69 लाख करोड़ रुपए के बाजार मूल्य के साथ HDFC बैंक है और चौथे पर 3.82 लाख करोड़ रुपए बाजार मूल्य के साथ हिंदुस्तान यूनिलीवर है. पांचवां नंबर ITC का है जिसका बाजार मूल्य 3.79 लाख करोड़ रुपए है और छठे पर 3.23 लाख करोड़ रुपए बाजार मूल्य के साथ हाउसिंग डेवेल्पमेंट फाइनेंस कार्पोरेशन (HDFC लिमिटेड) है. सातवें पर 3.04 लाख करोड़ रुपए के साथ इंफोसिस, आठवें पर 2.77 लाख करोड़ के साथ मारुति, नौवें पर 2.69 लाख करोड़ रुपए के साथ एसबीआई और 10वें पर 2.36 लाख करोड़ रुपए के साथ कोटक महिंद्रा बैंक है.

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

कोरोना विस्फोट के बीच क्या लगेगा लॉकडाउन? पीएम मोदी की आज बड़ी बैठक

नई दिल्ली 19 अप्रैल 2021 । कोरोना की दूसरी लहर की वजह से देश में …