मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> अर्जुन तेंदुलकर को छिपकर खेलते हुए देखते हैं सचिन तेंदुलकर

अर्जुन तेंदुलकर को छिपकर खेलते हुए देखते हैं सचिन तेंदुलकर

नयी दिल्ली 17 फरवरी 2022 । मुंबई इंडियंस ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की मेगा नीलामी के दौरान अर्जुन तेंदुलकर को 30 लाख रुपये में खरीदा। 22 वर्षीय अर्जुन को भी पिछले साल भी मुंबई ने उनके बेस प्राइस 20 लाख रुपये में चुना था। लेकिन इस बार नीलामी में बिकने पर अर्जुन तेंदुलकर आलोचकों के निशाने पर रहे। कई लोगों की राय है कि सचिन तेंदुलकर का बेटा होने के कारण उन्हें मौके मिल रहे हैं। युवा ऑलराउंडर अर्जुन तेंदुलकर पर नेपोटिजम के आरोप भी लगते रहे हैं। अर्जुन अब तक घरेलू क्रिकेट में भारत अंडर-19 और मुंबई के लिए खेल चुके हैं। लेकिन अब महान सचिन तेंदुलकर ने खुलासा किया है कि वह अपने बेटे को खेलते नहीं देखते क्योंकि वह चाहते हैं कि अर्जुन को बिना किसी दबाव के खेल से प्यार हो जाए। ग्राहम बेंसिंगर के साथ बातचीत में सचिन ने कहा कि जब वह अर्जुन को खेलते हुए देखने जाते हैं तो वह छिपकर देखना पसंद करते हैं। उनके इस कदम से उनके बेटे के कोच अनजान रहते हैं।

सचिन ने कहा, “पिता और माता, जब वे अपने बच्चों को खेलते देखते हैं, तो वे तनावग्रस्त हो जाते हैं और इसलिए मैं अर्जुन को देखने नहीं जाता, क्योंकि मैं चाहता हूं कि उसे क्रिकेट से प्यार करने की फ्रीडम हो – वह जो चाहता है उस पर ध्यान केंद्रित करे। मैं उसे खेलते हुए देखने नहीं जाता।”उन्होंने आगे कहा, ”उसे खेल पर ध्यान केंद्रित करना है। जैसे मुझे कोई देखे ये मैं पसंद नहीं करता था। यहां तक ​​कि अगर मैं जाकर उसका खेल देखता हूं, तो भी मैं कहीं छुपा रहता हूं। उसे नहीं पता कि मैं वहां हूं, और कोई नहीं जानता, न तो उनके कोच, न ही कोई।”

बाएं हाथ के गेंदबाज और बल्लेबाज अर्जुन ने पिछले साल हरियाणा के खिलाफ सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में मुंबई के लिए डेब्यू किया था। उन्होंने तीन ओवर में 34 रन देकर एक विकेट लिया। अर्जुन इस साल मुंबई इंडियंस कैंप का हिस्सा होंगे, जिसमें कई बाएं हाथ के गेंदबाज शामिल हैं। पांच बार के चैंपियन ने बाएं हाथ के तेज गेंदबाजों टायमल मिल्स और जयदेव उनादकट को शामिल किया है। ऑस्ट्रेलिया के डेनियल सैम्स भी दल का हिस्सा हैं।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

‘राजपूत नहीं, गुर्जर शासक थे पृथ्वीराज चौहान’, गुर्जर महासभा की मांग- फिल्म में दिखाया जाए ‘सच’

नयी दिल्ली 21 मई 2022 । राजस्थान के एक गुर्जर संगठन ने दावा किया कि …