मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> नोटबंदी की आड़ में 225 करोड़ का घोटाला, काले धन से जयपुर में खड़ी की गगनचुंबी इमारतें

नोटबंदी की आड़ में 225 करोड़ का घोटाला, काले धन से जयपुर में खड़ी की गगनचुंबी इमारतें

जयपुर 28 मई 2019 । वर्ष 2016 में भारत सरकार की ओर से 500 और 1000 के नोट बंद किए गए। पुराने नोटों को बदलवाने के नाम पर आदर्श क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी ने लगभग सवा दो सौ करोड़ के घोटाले को अंजाम दिया। इस काले से जयपुर में गगनचुंबी इमारतें खड़ी की गई। यह खुलासा शनिवार को स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) ने किया। एसओजी ने आदर्श क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी में 14 हजार 800 करोड़ रुपए का घोटला उजागर कर कंपनी के तीन डायरेक्टर भाई, बेटी, बेटा और दामाद सहित 11 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। सोसायटी ने देशभर में 28 राज्यों और 4 केंद्रशासित प्रदेशों में 806 शाखाएं हैं, जिसमें 309 शाखाएं राजस्थान में है। सोसायटी में करीब बीस लाख सदस्य हैं।

सलाह के नाम पर ले लिए 750 करोड़
सोसायटी ने मोदी परिवार की बेटी प्रियंका और उसके पति वैभव के नाम एक फर्जी कंपनी बना दी और इस कंपनी को मात्र सलाह देनेे के नाम पर ही 750 करोड़ रुपए का भुगतान कर दिया गया। इसी तरह नोटबंदी के दौरान भी सोसायटी ने पुराने नोटों को बदलवाने के नाम पर सवा दो सौ करोड़ रुपए का घोटाला किया। सोसायटी ने वर्ष 2016 में हुई नोटबंदी के संबंध में फरवरी 2017 के दस्तावेजों से राशि का गबन किया।

देश में 806 शाखाएं
सोसायटी ने देशभर में 28 राज्यों और 4 केंद्रशासित प्रदेशों में 806 शाखाएं हैं, जिसमें 309 शाखाएं राजस्थान में है। सोसायटी में करीब बीस लाख सदस्य हैं। आरोपियों ने जयपुर, सिरोही, गुडग़ांव, मुंबई और अहमदाबाद सहित अन्य जिलों में 187 फर्जी कंपनियां बनाकर इतने बड़े घोटाले को अंजाम दिया है।

घोटाले की रकम से बनाई बड़ी-बड़ी बिल्डिंगे
एसोजी के डीआईजी ने बताया कि मोदी परिवार ने गबन की राशि से शिप्रापथ, अजमेर रोड और भांकरोटा में 25-25 मंजिल की तीन इमारतें खड़ी कर ली है। इस मामले में भी आरोपियों से पूछताछ की जा रही है।

इन्हें किया गिरफ्तार
एसओजी ने बताया कि अरबों रुपए की इस घोटाले के मामले में जयपुर, सिरोही, गुडग़ांव, मुंबई और अहमदाबाद से सोसायटी के कर्ताधर्ता वीरेंद्र मोदी और उसके भाई भरत मोदी के अलावा इस परिवार की बेटी प्रियंका मोदी, दामाद वैभव लोढ़ा, भतीजा समीर मोदी सहित कमलेश चौधरी, ईश्वर सिंह, भरत वैष्णव, ललिता राजपुरोहित, रोहित मोदी और विवेक पुरोहित को गिरफ्तार किया गया है। वहीं तीसरा डायरेक्टर भाई मुकेश मोदी और बेटा राहुल मोदी को सीरियस फ्रॉड इवेंस्टिगेशनशैल (एसएफआईओ) ने पहले ही गिरफ्तार कर लिया है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

राहुल ने जारी किया श्वेतपत्र, बोले- तीसरी लहर की तैयारी करे सरकार

नई दिल्ली 22 जून 2021 । कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस …