मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> मध्य प्रदेश में स्कूल 1 फरवरी से खुलेंगे, मगर 50 फीसदी उपस्थिति के साथ चलेगी क्लास

मध्य प्रदेश में स्कूल 1 फरवरी से खुलेंगे, मगर 50 फीसदी उपस्थिति के साथ चलेगी क्लास

नयी दिल्ली 31 जनवरी 2022 ।  मध्य प्रदेश में कोरोना की तीसरी लहर की संक्रमण दर के नियंत्रण में आते ही एकबार फिर एक फरवरी से स्कूल खुल जाएंगे। मगर स्कूल 50 फीसदी उपस्थिति के साथ ही खोले जा सकेंगे। शासन ने स्कूलों को कोविड 19 के प्रोटोकॉल का गंभीरता से पालन करने का आदेश भी दिया है। मुख्यमंत्री श्री @ChouhanShivraj ने स्कूल खोलने के संबंध में चिकित्सा विशेषज्ञों से विचार-विमर्श कर निर्णय लिया कि 1 फरवरी से स्कूल पुनः खोले जाएंगे। कक्षा 1 से 12 तक सभी कक्षाएं 50% उपस्थिति के साथ संचालित होंगी। आवासीय विद्यालय और छात्रावास भी 50% उपस्थिति के साथ खुलेंगे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने चिकित्सा विशेषज्ञों के साथ चर्चा के बाद स्कूलों को खोलने जाने का फैसला लिया है। कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर के कारण पिछले दिनों 31 जनवरी तक स्कूलों को बंद करने का फैसला लिया गया था। इसके बाद तीसरी लहर में कोरोना संक्रमण दर पर लगातार नजर रखी जा रही थी और 15 साल से 18 साल तक के किशोरों के कारण वैक्सीनेशन का काम शुरू हुआ। इसके तहत पहले डोज लगाने के बाद आज से इस उम्र के किशोरों को दूसरे डोज की शुरुआत हुई है। चर्चाओं के बाद स्कूल खोलने का फैसला
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पिछले दिनों प्रधानमंत्री आवास योजना के हितग्राहियों के खातों मेें राशि डालने के एक कार्यक्रम में स्कूल खोले जाने के संकेत दिए थे लेकिन कोरोना संक्रमण दर पर लगातार नजर रखी गई। स्कूलों को खोलने या बंद करने का आज फैसला लेना था और सुबह से ही सीएम सहित शिवराज सरकार के कई मंत्री विभिन्न विशेषज्ञों से चर्चा करते रहे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार शाम को तक चिकित्सा विशेषज्ञों से चर्चा के बाद फैसला किकया कि एक फरवरी से पहली से 12वीं तक के स्कूलों को खोला जाए। मगर इसमें यह शर्त रखी गई कि स्कूलों में केवल 50 फीसदी उपस्थिति की अनुमति दी जाए। मध्य प्रदेश में एक फरवरी से आवासीय विद्यालय और छात्रावास भी खुलेंगे लेकिन 8वीं, 10वीं व 12वीं कक्षा के आवासीय विद्यालय व छात्रावास ही संचालित हो सकेंगे। इन कक्षाओं के आवासीय विद्यालय व छात्रावास सौ फीसदी क्षमता के साथ खुलेंगे। इसके बाद क्षमता बचती है तो 6वीं, 7वीं, 9वीं औ्र 11वीं कक्षाओं के विद्यार्थियों को 50 फीसदी क्षमता के साथ सुविधा उपलब्ध कराई जाने की अनुमति दी गई है। ऑनलाइन कक्षाएं पूर्ववत संचालित होती रहेंगी।

रविवार को 8062 नए कोरोना संक्रमित केस
स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक प्रदेश में रविवार को कोरोना के 8062 नए केस आए लेकिन इससे कहीं ज्यादा 10748 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर लौटे हैं। कोरोना संक्रमण की रफ्तार नियंत्रण में बताई गई और एक्टिव केस 60609 बचे हैं। अब संक्रमण दर 10.82 फीसदी रह गई है जबकि रिकवरी दर 91.08 प्रतिशत पहुंच गई है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

‘राजपूत नहीं, गुर्जर शासक थे पृथ्वीराज चौहान’, गुर्जर महासभा की मांग- फिल्म में दिखाया जाए ‘सच’

नयी दिल्ली 21 मई 2022 । राजस्थान के एक गुर्जर संगठन ने दावा किया कि …