मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> प्रदेश अध्यक्ष के चुनाव पर सिंधिया बोले- ये सवाल कांग्रेस से पूछिए

प्रदेश अध्यक्ष के चुनाव पर सिंधिया बोले- ये सवाल कांग्रेस से पूछिए

भोपाल 18 सितम्बर 2019 । मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद पर उठे विवाद के बीच भोपाल में सीएम कमलनाथ और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मुलाकात की. सीएम हाउस में हुई ये मुलाकात करीब आधे घंटे तक चली. सीएम कमलनाथ से मुलाकात के बाद सीएम हाउस के बाहर सिंधिया ने पत्रकारों को बताया कि मध्य प्रदेश में हुई भारी बारिश से किसानों और जनता का जो नुकसान हुआ है, वो भयावह है. इसी सिलसिले में वो सीएम कमलनाथ से मुलाकात करने आए थे.

मुलाकात से पहले सिंधिया भोपाल से सटे बैरसिया पहुंचे थे, जहां उन्होंने खेतों का दौरा किया और भारी बारिश से बर्बाद हुई फसलों को देखा था. सीएम हाउस के बाहर सिंधिया ने कहा कि मध्य प्रदेश में अतिवर्षा के चलते बाढ़ जैसे हालत बन गए हैं और मैंने इन्हीं हालातों को लेकर व जनता को किस तरह से राहत दी जा सकती है, इन सब विषयों पर सीएम कमलनाथ से चर्चा की है.

सिंधिया ने कहा कि अतिवर्षा से पीड़ित किसानों को मुआवजा देने पर चर्चा हुई है. बारिश से खराब फसलों का सर्वे ठीक से हो, बरसात रुकने के एक दो दिन बाद सर्वे शुरू हो और फिर राहत राशि व फसल बीमा की राशि भी मिले. ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बताया कि सीएम कमलनाथ ने उनकी बातों को ध्यान से सुना है और आश्वासन दिया है कि बारिश पूरी तरह रुकने के बाद फसलों का सर्वे कराया जाएगा.’

पत्रकारों ने जब ज्योतिरादित्य सिंधिया से प्रदेश अध्यक्ष के चुनाव में हो रही देरी से जुड़ा सवाल पूछा तो सिंधिया ने कहा कि ये सवाल कांग्रेस से पूछना चाहिए कि प्रदेश अध्यक्ष पद के लिए देरी क्यों हो रही है? सिंधिया ने कहा कि मैं जनता की सेवा, प्रगति और विकास को लेकर काम करता हूं. यह मैं पहले ही स्पष्ट कर चुका हूं. प्रदेश अध्यक्ष पद पर हो रही देरी पर मैं कुछ नही बोलूंगा क्योकि मैं इसमें निर्णायक भूमिका में नहीं हूं.

भगवा पहने लोग चूरन बेच रहे और बलात्कार कर रहे हैं
कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य दिग्विजय सिंह ने मंगलवार को विवादित बयान दिया. दिग्विजय सिंह ने कहा कि जिन लोगों ने सनातन धर्म को बदनाम किया है, उन्हें भगवान भी माफ नहीं करेगा. आज भगवा पहनने वाले लोग चूरन बेच रहे हैं, भगवा वस्त्र पहने लोग बलात्कार कर रहे हैं. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह अपने बयानों के चलते अक्सर सुर्खियों में छाए रहते हैं. उनके बयान से कांग्रेस पार्टी को कई बार फजीहत झेलनी पड़ी है. दिग्विजय सिंह ने बीजेपी और बजरंग दल पर विवादित बयान दिया था. उन्होंने कहा था कि मुसलमानों से ज्यादा गैर-मुसलमान आईएसआई के लिए जासूसी कर रहे हैं. इसके साथ उन्होंने बीजेपी और बजरंग दल पर पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI से पैसा लेने का भी आरोप लगाया था.

अनुच्छेद 370 को लेकर दिग्विजय सिंह ने कहा था कि अंतरराष्ट्रीय मीडिया का संदर्भ लें और देखें कि कश्मीर में क्या हो रहा है. मोदी सरकार ने आग में हाथ डाला है. कश्मीर को बचाना हमारी पहली प्राथमिकता है. मैं मोदी जी, अमित शाह जी और अजीत डोभाल जी से सावधान रहने की अपील करता हूं, वरना हम कश्मीर खो देंगे. इस साल जुलाई में आरएसएस के खिलाफ हमला जारी रखते हुए कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने आरोप लगाया था कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) देश में आतंक फैलाने में सक्रिय है और मुंबई में हुए ताजा आतंकवादी हमले की जांच के दायरे में सभी आतंकवादी संगठनों के साथ हिंदू संगठनों को भी लाया जाना चाहिए.

भ्रष्ट अफसरों के खिलाफ कार्रवाई की अनुमति
मप्र की कमलनाथ सरकार ने प्रदेश के 186 भ्रष्ट अफसरों के खिलाफ चालान पेश करने की अनुमति दी*…शासन ने 282 से अधिक भ्रष्ट अफसरों में से, 186 अफसरों के विरुद्ध जाँच एजेंसियों को कोर्ट में चालान पेश कर, प्रकरण चलाने की अनुमति जारी की।
सामान्य प्रशासन विभाग के प्रमुख सचिव ने हाईकोर्ट में शपथ पत्र के साथ दी यह जानकारी।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

राहुल ने जारी किया श्वेतपत्र, बोले- तीसरी लहर की तैयारी करे सरकार

नई दिल्ली 22 जून 2021 । कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस …