मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> हिंदू धर्म छोड़ने वालों की घर वापसी के लिए मंदिर और मठ तय करें सालाना टारगेट: तेजस्वी सूर्या

हिंदू धर्म छोड़ने वालों की घर वापसी के लिए मंदिर और मठ तय करें सालाना टारगेट: तेजस्वी सूर्या

नयी दिल्ली 27 दिसंबर 2021 । भाजपा युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और सांसद तेजस्वी सूर्या के बयान पर विवाद छिड़ सकता है। 25 दिसंबर को अपने गृह राज्य कर्नाटक में आयोजित एक कार्यक्रम में वह यह कहते दिख रहे हैं कि हिंदुओं के पास एक ही विकल्प है कि वे धर्म छोड़कर गए सभी लोगों की घर वापसी कराएं। एएनआई की ओर से जारी किए गए वीडियो के मुताबिक तेजस्वी सूर्या कहते हैं, ‘हिंदुओं के पास एक ही विकल्प बचा है कि वे उन सभी लोगों की घर वापसी कराएं, जो हिंदू धर्म को छोड़कर गए हैं। अपने मातृ धर्म को छोड़कर जाने वाले लोगों को वापस लाया जाना चाहिए।’

यही नहीं तेजस्वी सूर्या ने कहा, ‘मेरा आग्रह है कि हर मंदिर और मठ को इसके लिए टारगेट तय करना चाहिए।’ वह कहते हैं कि चाहे जबरन या फिर धोखे से, लालच से या फिर चोरी से जिन्हें हिंदू धर्म से अलग किया गया है, उन्हें वापस लाना जरूरी है। इसके अलावा कोई समाधान नहीं हो सकता है। उन्होंने कहा कि देश के हर मंदिर और मठ को इसे लेकर सालाना टारगेट तय करना चाहिए ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों की घर वापसी हो। पिछले दिनों हरिद्वार में हुई धर्म संसद को लेकर भी विवाद छिड़ा हुआ, जिसे लेकर आरोप लगाया जा रहा है कि इसमें अल्पसंख्यकों के संहार का आह्वान किया गया था। इसमें भाजपा नेता अश्विनी उपाध्याय की उपस्थिति को लेकर भी निशाना साधा जा रहा है। हालांकि उपाध्याय का कहना है कि वह कुछ वक्त के लिए ही उस कार्यक्रम में थे और फिर वापस लौट आए थे। अब तेजस्वी सूर्या के बयान को लेकर भी विपक्ष भाजपा पर हमलावर हो सकता है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

ज्ञानवापी मस्जिद का सर्वे पूरा, हिंदू पक्ष ने किया दावा-‘बाबा मिल गए’; कल कोर्ट में पेश होगी रिपोर्ट

नयी दिल्ली 16 मई 2022 । ज्ञानवापी मस्जिद का सर्वे पूरा हो गया है। तीसरे …