मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> शिवराज का दावा, ‘लिखकर रखलो भोपाल से BJP ही जीतेगी

शिवराज का दावा, ‘लिखकर रखलो भोपाल से BJP ही जीतेगी

भोपाल 3 अप्रैल  2019 । भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दावा किया है कि भोपाल सीट से भाजपा को कोई भी कार्यकर्ता दिग्विजय सिंह को हरा देगा । वे ग्वालियर एयरपोर्ट पर मीडिया से बात कर रहे थे ।उन्होंने कहा यह बात नोट करलो 23 तारिख को परिणाम आएगा और भाजपा जीतेगी| भिंड के एक दिवसीय दौरे पर शामिल होने के लिए पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज ग्वालियर के राजमाता विजया राजे सिंधिया विमानतल महाराजपुरा पहुंचे । यहां से वे सड़क मार्ग से भिंड के लिए रवाना हो गए । भिंड के लिए रवाना होने से पहले मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि आज आप लिखकर रख लो, 23 मई को जब चुनाव परिणाम आएगा तो भोपाल से भाजपा भारी मतों से जीतेगी, भाजपा को कोई भी कार्यकर्ता भोपाल से जीत जाएगा ।

गौरतलब है कि दिग्विजय के टिकट भोपाल से घोषित हो जाने के बाद अभी भाजपा ने अपना प्रत्याशी घोषित नहीं किया है जिसे लेकर कांग्रेस तंज कस रही है कि भाजपा दिग्विजय सिंह से डर रही है । शिवराज सिंह पत्रकारों के इस सवाल का ही जवाब दे रहे थे। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह भिंड के कार्यक्रमों में शामिल होने के बाद शाम को ग्वालियर आएंगे और वे यहां ग्वालियर व्यापार मेले के एक्सपोर्ट फेसिलिटेशन सेंटर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मैं हूं चौकीदार कार्यक्रम में शामिल होंगे ।

गरीब, किसान और नौजवानों के लिये संजीवनी बूटी है, हम निभाएंगे घोषणा-पत्र : मुख्यमंत्री कमलनाथ

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा आज जारी किए गए कांग्रेस घोषणा-पत्र को भारत के समग्र विकास का ऐतिहासिक दस्तावेज बताया है। उन्होंने कहा कि गरीब, किसान और नौजवानों के लिए यह घोषणा पत्र संजीवनी बूटी साबित होगा। इन वर्गों की खुशहाली से देश की तस्वीर बदल जाएगी।
मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के ‘‘हम निभाएंगे’’ घोषणा-पत्र में भारत के विकास की नब्ज है। कांग्रेस ने हमेशा जिन वर्गों के हित में काम किया है उसकी आवाज कांग्रेस द्वारा जारी घोषणा पत्र में मुखरता और प्रखरता के साथ गूंजती दिखाई दे रही है। उन्होंने कहा कि देश के 20 प्रतिशत गरीब कांग्रेस के सत्ता में आने के बाद गरीबी के अभिशाप से मुक्त होकर एक सम्मानित जीवन जी पाएंगे। कांग्रेस का घोषणा-पत्र सच्चे दिन लाने का न केवल वादा करता है बल्कि यह भी बताता है कि कांग्रेस अपने सिद्धांतों और मूल्यों से न डिगी है और न डिगेगी।
मु्ख्यमंत्री नाथ ने कहा कि गरीबों को हर साल 72 हजार और हर माह 6 हजार रुपये देने की राहुल गांधी जी की घोषणा से देश के गरीबों की खुशहाली का एक नया इतिहास रचा जाएगा। युवाओं को रोजगार प्रदान की दृष्टि से सार्वजनिक व निजी दोनांे क्षेत्र में नौकरियों को नं.1 प्राथमिकता बनाने का वादा, सार्वजनिक क्षेत्र में 34 लाख नौकरियाँ सुनिश्चित करने का लक्ष्य, नौजवानों को 22 लाख नौकरियाँ सरकारी क्षेत्र में और 10 लाख नौकरियाँ पंचायतों में देने का वादा, हमारी युवा शक्ति की देश के नव-निर्माण में भागीदारी को न केवल सुनिश्चित करेगी बल्कि हमारा युवा आत्मसम्मान का जीवन आत्मनिर्भरता से जी सकेगा।
नाथ ने कहा कि हमारा किसान जिस पर देश की अर्थव्यवस्था निर्भर है उनकी कर्जमाफी करके राहुल गांधी ने उनके भविष्य को संवारने का मार्ग प्रशस्त किया है। उन्होंने कहा कि महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण देने की बात कर समानता और सशक्तिकरण की दिशा में बड़ा कदम उठाया गया है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वास्थ्य सुविधाएँ सुदृढ़ बनाने के लिये जीडीपी का 3 प्रतिशत स्वास्थ्य सेवाओं में खर्च करने का वादा, शिक्षा के क्षेत्र में सुधार के लिये जीडीपी का 6 प्रतिशत खर्च करने का लक्ष्य,आदिवासी अनुसूचित जाति के वर्गों के हित में वन अधिकार अधिनियम को अक्षरश लागू करने की बात, एक टैक्स दर की बात, जीएसटी को सरल व आसान बनाने का वादा, निजता व स्वतंत्रता की रक्षा का वादा, संस्थाओं की स्वायत्तता की बहाली जेसे जनहितकारी मुद्दों को ‘‘हम निभाएंगे’’ घोषणा पत्र में शामिल करके पूरे देश के सर्वांगीण विकास का एक सशक्त विजन डाक्यूमेंट देश की जनता के सामने कांग्रेस ने रखा है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस के घोषणा-पत्र में नफरत की नहीं सद्भाव की बात है। उसमें भेदभाव नहीं समानता और समावेश की बात है। देश के किसानों की खुशहाली और नौजवानों की बेरोजगारी दूर करने की जो घोषणाएँ हैं उससे भारत पूरी दुनिया में एक ऐसा राष्ट्र बनकर उभरेगा जिस पर हर हिन्दुस्तानी को गर्व होगा।

कांग्रेस का घोषणापत्र देश की सुरक्षा पर क्रूरतम प्रहारः राकेश सिंह

कांग्रेस पार्टी स्वतंत्रता के बाद से लगातार देश की सुरक्षा से खिलवाड़ और सेना के शौर्य का अपमान करती रही है, लेकिन लोकसभा चुनाव के लिए जारी किया गया पार्टी का घोषणा पत्र तो देश की सुरक्षा पर क्रूरतम प्रहार है। ऐसा लगता है कि यह घोषणा पत्र किसी राष्ट्रवादी राजनीतिक दल का वचन पत्र न होकर दुश्मन देश द्वारा भारत और उसकी सेनाओं को नीचा दिखाने के लिए तैयार किया गया प्लान है। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद श्री राकेश सिंह ने कांग्रेस पार्टी द्वारा जारी किए गए घोषणा पत्र पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कही। उन्होंने कहा कि देश की सुरक्षा और कश्मीर जैसे संवदेनशील मामले को लेकर कांग्रेस के घोषणा पत्र में जो बातें कही गई हैं, उनसे लगता है कि शायद कांग्रेस पाकिस्तान और कश्मीरी अलगाववादियों के साथ मिलकर लोकसभा चुनाव लड़ना चाहती है।

अपनी ही सेना को बताया अपराधी और बलात्कारी

राकेश सिंह ने कहा कि कांग्रेस ने अपने घोषणापत्र में कहा है कि वह अफस्पा हटाएगी और कश्मीर में सेना के अधिकारों को कम करेगी। इससे ऐसा लगता है कि कांग्रेस ने कश्मीर में अलगाववादियों एवं आतंकवादियों से बैक एंड समझौता कर लिया है। श्री राकेश सिंह ने कहा कि कश्मीर से अफस्पा हटाने का मतलब यह है कि सेना के पास से आतंकवादियों पर प्रहार करने के हथियार छीन लिए जायेंगे। इतना ही नहीं, कांग्रेस पार्टी ने वादा किया है कि वह अलगाववादियों से बात करेगी। उन्होंने पूछा कि किसको खुश करने के लिए कांग्रेस पार्टी ऐसा कर रही है ? क्या कारण है कि आतंकवादियों, अलगावादियों, पाकिस्तानी प्रधानमंत्री और कांग्रेस का घोषणापत्र एक ही भाषा बोल रहे हैं। श्री राकेश सिंह ने कहा कि कांग्रेस ने अपने घोषणापत्र (घोषणापत्र की पेज संख्या 35, पॉइंट नंबर 6) में कहा है कि सेना नागरिकों को गायब कर रही है, ‘सेक्सुअल वायलेंस’ में शामिल है और लोगों को टॉर्चर करती है, जो पहले से ही कांग्रेस के तमाम नेता कहते आये हैं। श्री राकेश सिंह ने कहा कि कांग्रेस के घोषणापत्र में कश्मीरी पंडितों के पुनर्वास और पाकिस्तान स्पोंसर्ड टेररिज्म पर कोई वादा नहीं किया गया है। उन्होंने कहा कि कल ही फेसबुक ने ऐसे पेज हटाये हैं जिनके जरिए कांग्रेस पाकिस्तानी सेना के साथ मिलकर मोदी सरकार को हराने की रणनीति बना रही थी। इससे स्पष्ट है कि कांग्रेस देश के खिलाफ बड़ी साजिश रच रही है।

कांग्रेस का इतिहास ही झूठे वादों का

राकेश सिंह ने कहा कि कांग्रेस का इतिहास ही झूठे वादे करने का रहा है। 2004 के घोषणापत्र में कांग्रेस ने बिजली पहुंचाने का वादा किया था। 2009 और 2014 में भी यह कांग्रेस के घोषणापत्र में शामिल रहा, लेकिन इसे पूरा मोदी सरकार ने पिछले पांच वर्षों में किया। इसी तरह 40 साल से पेंडिंग वन रैंक, वन पेंशन की बात को कांग्रेस ने 2004 के घोषणापत्र में लागू करने का वादा किया था। कांग्रेस इसे 10 सालों में भी पूरा नहीं कर पाई और मोदी सरकार ने एक साल में ही इसे लागू कर दिया। अब तक सैनिकों के खाते में लगभग 35,000 करोड़ रुपये की राशि पहुंचाई भी जा चुकी है। 2004 में कांग्रेस ने वादा किया था कि वह हर साल 2 अक्टूबर को पूरे किए गये वादों का लेखा जोखा जनता के सामने रखेगी, लेकिन आज तक कांग्रेस की सरकार में यह हुआ ही नहीं। कांग्रेस पार्टी ने 2011 तक देश के हर नागरिक को आधार कार्ड देने का वादा किया था, लेकिन 46 करोड़ लोगों को ही आधार से जोड़ पाई थी। मोदी सरकार ने देश के हर नागरिक को आधार से जोड़ा है। कांग्रेस पार्टी ने अपने घोषणापत्र में कहा है कि वह सुरक्षा जरूरतों के लिए हाइएस्ट लेवल के कदम उठायेगी। श्री राकेश सिंह ने कहा कि रहने दीजिये राहुल बाबा, आप 10 साल में एक लड़ाकू विमान का डील तो कर नहीं पाए, अब क्या कदम उठाओगे। कांग्रेस ने वादा किया है कि वह सबको स्वास्थ्य सुरक्षा देगी, जबकि 2013-14 तक केवल ढाई करोड़ लोग ही इस योजना से कवर्ड हो पाए थे। मोदी जी ने देश के 50 करोड़ गरीबों को पांच लाख रुपये तक की वार्षिक स्वास्थ्य बीमा दे दी है, लेकिन कांग्रेस शासित राज्यों की सरकारें इसे लागू नहीं कर रही हैं।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

राहुल ने जारी किया श्वेतपत्र, बोले- तीसरी लहर की तैयारी करे सरकार

नई दिल्ली 22 जून 2021 । कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस …