मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> राफेल समेत चार फाइलें दिखा दीजिए, मोदी को जिंदगी भर के लिए जेल में डाल दूंगा

राफेल समेत चार फाइलें दिखा दीजिए, मोदी को जिंदगी भर के लिए जेल में डाल दूंगा

नई दिल्ली 17 अक्टूबर 2018 । दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्र सरकार को चुनौती दी कि वह एक केंद्रीय समिति द्वारा उनकी सरकार की 400 फाइलों की गई जांच के बदले उन्हें राफेल सौदे की फाइल दिखाए। केजरीवाल ने आम आदमी पार्टी के चंदा अभियान की शुरूआत के मौके पर कहा कि मुझे राफेल समेत केवल चार फाइलें चार दिन के लिए दिखा दीजिए, मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जीवन भर के लिए जेल भेज दूंगा।
उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोलते हुए दावा किया कि राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की आप सरकार पिछले 70 सालों में देश की ‘‘सबसे ईमानदार’’ सरकार है। उन्होंने अपने ‘‘ईमानदार’’ पार्टी कार्यकर्ताओं और लोगों से भाजपा और कांग्रेस समर्थकों का विश्वास के साथ सामना करने को कहा। उन्होंने मोदी पर निशाना साधते हुए कहा दिल्ली के लोगों का सीना मात्र 56 इंच नहीं, बल्कि 60 इंच फूला हुआ है, क्योंकि वे गर्व से भरे हुए हैं।

कांग्रेस का पूजा धमाका ऑफर, राफेल का दाम बताएं 5 करोड़ इनाम पाएं

बिहार में दुर्गा पूजा के इस त्योहारी सीजन में भी कांग्रेस राफेल डील का मुद्दा भुनाने से नहीं चूकना चाहती. उसने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राफेल डील के खिलाफ एक अनोखी मुहिम छेड़ी है. पटना में पार्टी ने ऐसे पोस्टर लगाए हैं, जिन पर सबका ध्यान आकर्षित हो रहा है. पोस्टर पर दो सवाल पूछे गए हैं और सही जवाब देने वालों को 5 करोड़ रुपए इनाम देने का ऐलान किया गया है.

पोस्टर पर पहले सवाल में मोदी सरकार की ओर से बनाए गए 35 हवाई अड्डों के नाम पूछे गए हैं तो दूसरे सवाल में फ्रांस के साथ कितने रुपए में राफेल डील की गई, यह पूछा गया है.

बिहार में लगे इन पोस्टरों पर कांग्रेस नेता सिद्धार्थ क्षत्रिय और वेंकटेश रमण के नाम हैं. पीएम मोदी को राफेल विमान पर बैठा दिखाया गया है. पार्टी ने पूजा धमाका ऑफर के तहत सवालों का सही जवाब देने वालों को 5 करोड़ रुपया इनाम देने की घोषणा की है. हालांकि बिहार के आला कांग्रेस नेताओं का कहना है कि इस पोस्टर के बारे में उन्हें जानकारी नहीं है.

इस पोस्टर पर कांग्रेस का नाम तो नहीं है लेकिन उसका चुनाव चिन्ह और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की फोटो जरूर है. इस बार भी पोस्टर लगाने वाले वही कांग्रेस नेता हैं, जिन्होंने कुछ दिनों पहले पोस्टर लगाकर सोनिया गांधी, राहुल गांधी से लेकर अपने तमाम बड़े नेताओं की जाति बताई थी. हर बार पोस्टर लगने पर कांग्रेस आधिकारिक रूप से अपने आप को इससे अलग कर लेती है, इस बार भी वैसा ही हुआ है.

बता दें कि भारत और फांस के बीच हुए राफेल डील में कीमत गोपनीय रखने की शर्त है. कांग्रेस की पोस्टर वाली सियासत को लेकर बीजेपी के वरिष्ठ नेता और उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा है कि देश की प्रमुख विपक्षी पार्टी के पास कोई मुद्दा नहीं है. राफेल में कोई घोटाला नहीं हुआ है. पीएम मोदी पर लगाए गए आरोप गलत हैं. बीजेपी ने इसका मजबूती से जवाब दिया है.

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

भस्मासुर बना तालिबान, अपने ही सुप्रीम लीडर अखुंदजादा का कत्ल; मुल्ला बरादर को बना लिया बंधक

नई दिल्ली 21 सितम्बर 2021 । अफगानिस्तान में सत्ता पाने के बाद आपस में खूनी …