मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> लोकसभा चुनाव के बाद मध्‍यप्रदेश में सत्‍ता बदलने के संकेत

लोकसभा चुनाव के बाद मध्‍यप्रदेश में सत्‍ता बदलने के संकेत

भोपाल 1 फरवरी 2019 । भारतीय जनता पार्टी अगामी लोकसभा चुनाव में अपनी पूरी ताकत झौंकने की तैयारी कर ली है। लोकसभा चुनाव की तैयारी के लिए भारतीय जनता पार्टी ने बुधवार को मैराथन बैठकें कीं। लगभग आठ घंटे चली इन बैठकों का सिर्फ एक संदेश साफ तौर पर दिया गया कि आप निराश मत होइए, प्रदेश की सभी 29 सीट जीतकर पहले मोदी सरकार की वापसी की तैयारी करो। फिर प्रदेश में भी भाजपा की सरकार बनाएंगे। विधानसभा चुनाव की पराजय भूलकर अब कांग्रेस की कर्जमाफी पर नजर रखने का लक्ष्य भी सभी नेताओं को दिया गया। साथ ही कहा कि कांग्रेस की कमलनाथ सरकार पूर्ण कर्जमाफी नहीं कर पाएगी और इस पर हमें कमलनाथ सरकार को घेरना है।

लोकसभा चुनाव जीतने की तैयारी करो
रामलाल भाजपा के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री रामलाल ने कहा कि विधानसभा चुनाव के बाद मैं पहली बार आ रहा हूं। हार का ठीकरा कोई अपने ऊपर नहीं लेता, बल्कि दूसरे के ऊपर ही फोड़ता है। जीत का श्रेय हम कार्यकर्ता को देते हैं। मप्र में हम हारे नहीं हैं, कांग्रेस जीती है। लोकसभा चुनाव जीतने की तैयारी करो। चुनाव दो दलों या महागठबंधन के बीच का न होकर देश के भविष्य का फैसला करने वाला है। इस महायुद्ध में जीत के लिए हमें अपनी सर्वश्रेष्ठ आहूति देनी होगी। एकजुट होकर सकारात्मक दृष्टिकोण के साथ सभी 29 लोकसभा सीटों पर जीत हासिल करने के लिए चुनाव मैदान में उतरना है।

सकारात्मक है माहौल
इस बैठक को भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह, पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान के अलावा नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने भी संबोधित किया। बैठक में सभी नेताओं से कहा गया कि जिन कार्यकर्ताओं ने विधानसभा चुनाव में छोटी-मोटी गलती की हो, उन्हें मनाकर वापस लाएं। जो कार्यकर्ता टिकट की नाराजगी में घर बैठ गए थे, उन्हें मनाओ और काम पर लगाओ। माहौल सकारात्मक है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

कोरोना विस्फोट के बीच क्या लगेगा लॉकडाउन? पीएम मोदी की आज बड़ी बैठक

नई दिल्ली 19 अप्रैल 2021 । कोरोना की दूसरी लहर की वजह से देश में …