मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> हेलीकॉप्टर से दुल्हन को ब्याहने आया किसान का बेटा

हेलीकॉप्टर से दुल्हन को ब्याहने आया किसान का बेटा

कालापीपल 23 फरवरी 2019 । अपने जीवनसाथी को लेकर लड़कियों में कई तरह की ख्वाहिशें रहती हैं। किसी के सपनों का राजकुमार घोड़े पर बैठकर आता है तो कोई गाड़ी लेकर आता है। लेकिन शाजापुर के ग्रामीण इलाके कालापीपल के एक गांव में दूल्हा अपनी दुल्हन को ब्याहने आसमान से आया। दरअसल गुरुवार को ये दूल्हा हेलीकॉप्टर से दुल्हन के गांव खरदोन्नकलां पहुंचा। गांव पर मंडराते हेलीकॉप्टर को देखने वैसे भी कई लोग जमा हुए, लेकिन जब उसमें से दूल्हा उतरा तो सभी की आंखें फटीं रह गईं।

आपको बता दें कि कालापीपल तहसील के खरदोन्नकलां गांव में दूल्हा अपनी दुल्हन को लेने हेलिकॉप्टर से पहुंचा। यहां के पूर्व सरपंच नंदकिशोर पाटीदार की बेटी निहारिका की शादी मिसरोद भोपाल के उद्देश्य पाटीदार से तय हुई। गुरुवार को दूल्हा उदेश हेलीकॉप्टर से बारात लेकर पहुंचा। दूल्हे के पिता मिसरोद में खेती-किसानी करते हैं, जबकि दूल्हा एमबीए करने के बाद बैंक में नौकरी कर रहा है।उसके स्वागत के लिए दुल्हन पक्ष की ओर से ढोल-ढमाकों के साथ बड़ी संंख्या में लोग भी मौजूद थे। इसी दौरान आसमान से फूलों की बारिश भी की गई। शाम करीब 5 बजे हेलीपेड पर जब हेलीकॉप्टर पहुंचा तो उसे और दूल्हे को देखने के लिए बड़ी संख्या में ग्रामीण जमा हुए। हेलीपेड पर स्वागत-सत्कार के बाद दूल्हा विवाह स्थल पर पहुंचा और विवाह की सारी रस्में पूरी की गई।दरअसल गांव में पहले महंगी गाड़ियों में सवार होकर कई दूल्हे बारात लेकर आए हैं, लेकिन हेलीकॉप्टर में इस तरह दुल्हन को ब्याहने कोई नहीं आया। ये इस तरह का पहला मौका था।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

अपोलो हॉस्पिटल्स, इंदौर में हार्ट सर्जरी के बाद नन्हे हीरोज अपने घर वापिस जाने के लिए तैयार

इंदौर 1 मार्च 2021 । यह अनुमान है कि भारत में हर साल 240,000 बच्चे …