मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> PK के सहारे 2024 में मोदी को चुनौती देने की तैयारी में सोनिया

PK के सहारे 2024 में मोदी को चुनौती देने की तैयारी में सोनिया

नयी दिल्ली 21 अप्रैल 2022 । एक के बाद एक कई राज्यों में चुनावी हार के बाद कांग्रेस अब 2024 के लोकसभा चुनावों की तैयारी में जुट गई है। खबर है कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पार्टी में सुधारों को लेकर कई कदम उठा रही हैं। इसके अलावा कांग्रेस चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर भी अपने साथ लाने की तैयारी में है। कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने गुरुवार को कहा कि कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी द्वारा गठित समिति आगामी राज्य चुनावों और 2024 के लोकसभा चुनावों से पहले पार्टी की तैयारियों और रणनीति पर अगले दो दिनों के भीतर अपनी रिपोर्ट देगी।

सुरजेवाला ने कहा, “कांग्रेस अंतरिम सोनिया गांधी द्वारा गठित समिति आगामी चुनावों के लिए पार्टी को और अधिक चुस्त बनाने सहित कांग्रेस संगठन को और अधिक प्रभावी बनाने के लिए अपनी रिपोर्ट और सिफारिशें अगले 24 से 48 घंटों के भीतर सौंप देगी।” प्रशांत किशोर के साथ मंथन कर रही कांग्रेस

इससे पहले कांग्रेस नेताओं ने चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर के साथ लगातार दो दिनों तक मंथन किया, जिसमें जयराम रमेश, केसी वेणुगोपाल, अंबिका सोनी, दिग्विजय सिंह और पी चिदंबरम सहित पार्टी के शीर्ष नेता भी मौजूद थे। सुरजेवाला ने कहा कि सोनिया गांधी ने राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर और पार्टी के अन्य नेताओं द्वारा कांग्रेस संगठन को मजबूत करने के लिए दिए गए विभिन्न सुझावों पर गौर करने के लिए एक समिति का गठन किया है। उन सुझावों में लोगों की आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए रोडमैप तैयार करना शामिल है।

पार्टी में शामिल होंगे प्रशांत किशोर? उन्होंने कहा कि प्रशांत किशोर द्वारा पार्टी और संगठन को बेहतर बनाने के लिए दिए गए सुझावों पर समिति विचार कर रही है। प्रशांत किशोर के पार्टी में शामिल होने की चर्चा के बीच, बैठकों में उनकी लगातार उपस्थिति पर सुरजेवाला ने कहा, “कांग्रेस अध्यक्ष द्वारा गठित समिति का लक्ष्य और अधिकार क्षेत्र किसी विशेष व्यक्ति को पार्टी में शामिल करना नहीं है।”

तीसरी बैठक में कथित तौर पर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मौजूद थे। सुरजेवाला ने कहा कि सीएम अशोक गहलोत को संगठन के साथ काम करने का लंबा अनुभव है और पार्टी ने पार्टी में जरूरी बदलाव पर उनके सुझावों का स्वागत किया है। दोनों मुख्यमंत्रियों ने पार्टी को और अधिक प्रभावी बनाने और संगठन को बेहतर बनाने की रणनीतियों पर अपने विचार साझा किए।

एक के बाद एक कई बैठकें कर रही हैं सोनिया

कांग्रेस ने आगामी राज्य चुनावों और 2024 के लोकसभा चुनावों के लिए पार्टी की तैयारियों पर चर्चा करने के लिए 10 जनपथ सोनिया गांधी के आवास पर तीन दिवसीय महत्वपूर्ण बैठक बुलाई, जिसमें पार्टी में संगठनात्मक सुधार शामिल हैं।

कांग्रेस प्रशांत किशोर के साथ बैठक कर रही है। राजनीतिक रणनीतिकार और सोनिया गांधी के बीच पहली मुलाकात 16 अप्रैल को हुई थी, और दूसरी 18 अप्रैल को हुई थी जबकि 19 अप्रैल को हुई थी।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

नरेश पटेल की एंट्री के कयास ने लिखी हार्दिक पटेल के एग्जिट की पटकथा

नयी दिल्ली 18 मई 2022 । कांग्रेस से लंबे समय से नाराज चल रहे गुजरात …