मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> शिवराज ने केंद्र में जाने पर की ऐसी घोषणा, पीएम नरेंद्र मोदी को भी आश्चर्य

शिवराज ने केंद्र में जाने पर की ऐसी घोषणा, पीएम नरेंद्र मोदी को भी आश्चर्य

भोपाल 6 फरवरी 2019 । शिवराज सिंह चौहान ने साफ कर दिया है कि मैं केंद्र की राजनीति में नहीं जा रहा हूं. गलत तरीके से इसे प्रचारित किया जा रहा है. मैं अपने लोगों के बीच भोपाल में ही रहूंगा. यहीं जिउंगा, यहीं मरूंगा. कार्यकर्ताओं को बताई अपनी सबसे बड़ी ताकत.

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सबको आश्चर्य में डाल दिया है। उन्होंने केंद्र की राजनीति में जाने के सवाल पर बड़ी घोषणा कर दी है। इस घोषणा ने सबसे अधिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आश्चर्य में डाला होगा। दरअसल, भारतीय जनता पार्टी के बीच भी यह चर्चा चल रही थी कि अगर शिवराज सिंह चौहान चौथी बार मुख्यमंत्री बनते हैं तो 2019 लोकसभा चुनावों में पीएम नरेंद्र मोदी के विकल्प के रूप में भाजपा बहुमत के आंकड़े से पिछड़ने की स्थिति में आगे कर सकती है।
शिवराज सिंह चौहान ने अपनी स्थिति साफ कर दी है। उन्होंने घोषणा कर दी है कि किसी भी स्थिति में हम दिल्ली नहीं जाने वाले हैं। हम अपने ही लोगों के बीच रहेंगे। भोपाल में रहकर कांग्रेस सरकार की चौकीदारी करेंगे। इसका जिम्मा राज्य की जनता ने हमें दिया है। मतलब साफ है कि शिवराज सिंह चौहान कांग्रेस के लिए भोपाल में बैठकर मुश्किल खड़ी करते रहेंगे। साथ ही, शिवराज सिंह चौहान की पूरी नजर अब लोकसभा चुनाव 2019 पर टिक गई है। वे भाजपा को एक बार फिर राज्य में भाजपा को पुराने रिकार्ड पर ले जाने के लिए हर प्रयास करेंगे, जो वे करते रहे हैं।

शिवराज सिंह चौहान ने इसके लिए अपने कार्यकर्ताओं को भी साधना शुरू कर दिया है। पूर्व सीएम शिवराज गुरुवार को भोपाल में भारतीय जनता पार्टी कार्यालय पहुंच गए। कार्यकर्ताओं का उत्साह बढ़ाया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के रूप में रहने के बाद भी कार्यकर्ताओं के बीच रहे हैं। अब तो सीएम पद से मुक्त हैं। कार्यकर्ता हमारी ताकत हैं और इनका समर्पण ही हम सभी की सफलता का मंत्र है। चुनाव में अथक परिश्रम करने वाले सभी कार्यकर्ताओं को हम एक बार फिर बधाई देते हैं। साथ ही उन्होंने खुद को कार्यकर्ताओं का नेता घोषित कर उनका विश्वास हासिल करने की कोशिश शुरू कर दी है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

भस्मासुर बना तालिबान, अपने ही सुप्रीम लीडर अखुंदजादा का कत्ल; मुल्ला बरादर को बना लिया बंधक

नई दिल्ली 21 सितम्बर 2021 । अफगानिस्तान में सत्ता पाने के बाद आपस में खूनी …