मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> बीजेपी के ८० बिधायकों पर लटकी टिकिट कटने की तलवार

बीजेपी के ८० बिधायकों पर लटकी टिकिट कटने की तलवार

नई दिल्ली 9 अगस्त 2018 । भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की विधायकों को चेतावनी के सालभर बाद भी भारतीय जनता पार्टी के 80 विधायक ऐसे हैं, जिनकी परफॉरमेंस में खास सुधार नहीं आया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी इन विधायकों से नवंबर में वन-टू-वन बात कर परफॉरमेंस सुधारने की आखिरी मोहलत दी थी।

चौहान ने सभी कमजोर विधायकों को छह महीने का वक्त जनता और कार्यकर्ताओं का भरोसा जीतने के लिए दिया था। उन्होंने विधायकों को उनके इलाके की सर्वे रिपोर्ट भी बताई थी। इसके बावजूद परिस्थिति में कोई खास बदलाव नहीं आया है। ये हालात भाजपा की रिपोर्ट में ही सामने आए हैं।

सीएम के स्तर पर भी अब तक तीन सर्वे हो चुके हैं। चौथा सर्वे जुलाई में करवाया है, जिसकी रिपोर्ट आने पर इनके टिकट पर निर्णय होगा। गौरतलब है कि शाह के दौरे के वक्त विधायकों के परफारमेंस पर विस्तार से चर्चा हुई थी। इसमें बताया गया था कि लगभग 77 विधायक ऐसे हैं, जो अब चुनाव जीतने की स्थिति में नहीं हैं। भाजपा सूत्रों की मानें तो यह संख्या अब बढ़कर अब 80 तक पहुंच गई है।

MP में वार रूम ‘जावली’ से तय होगी भाजपा की विधानसभा चुनाव की रणनीति

वर्ष 2003 में मध्यप्रदेश में कांग्रेस की दिग्विजय सिंह सरकार को उखाड़ फेंकने में अहम भूमिका निभाने वाला भाजपा का वार रूम ‘जावली’ ही इस विधानसभा चुनाव में भी सारी रणनीति तय करेगा। ‘जावली’ नाम के पीछे की कहानी भी रोचक है। जावली महाराष्ट्र की एक छोटी-सी रियासत थी।

इस जावली के किले में मुगल शासकों ने शिवाजी को मारने की योजना बनाई थी। 10 नवंबर 1659 को अफजल खां ने इसी जावली में शिवाजी को एकांत में मिलने बुलवाया था। जहां धोखे से वह शिवाजी की हत्या करना चाहता था, लेकिन शिवाजी ने उसे मार गिराया।

मप्र भाजपा ने भी अपने वार रूम ‘जावली’ का श्रीगणेश 10 नवंबर 2017 को ही कर लिया है, जो प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत के नेतृत्व में काम कर रहा है। इस बार जावली में स्व. अनिल दवे की कमी होगी, जो इसके कर्ताधर्ता हुआ करते थे। दवे ने ही 2003 में भाजपा के रणनीति कैंप जावली को शुरू करवाया था। केंद्रीय मंत्री रहते हुए दवे का निधन 2016 में हो गया था।

पार्टी सूत्रों का कहना है कि 74 बंगले स्थित बी-18 में जिस वार रूम को तैयार कराया जा रहा है, उसे भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के खास लोगों की टीम संभालेगी, जो लोकसभा चुनाव 2019 की तैयारियां देखेगी। शाह विधानसभा चुनाव के दौरान यदि भोपाल में कैंप करते हैं तो यह वार रूम लोकसभा चुनाव की देशभर में चल रही तैयारियों से शाह को अवगत कराता रहेगा।

आम आदमी पार्टी की बैठक सम्पन्न, सभी 230 सीट पर दमदारी से चुनाव लड़ेगी 

आज आम आदमी पार्टी की एक बैठक बालाजी मंदिर कांकरिया रोड, छापीहेड़ा मे संपन्न हुई, कार्यकर्ताओं द्वारा बस स्टैंड से बैठक स्थल तक ढोल ढमाके व नारेबाजी के साथ रैली निकाली व अतिथियों का स्वागत किया ,
बैठक को संबोधित करते हुए आम आदमी पार्टी के लोकसभा प्रभारी प्रवीण सक्सेना एडवोकेट ने कहा कि पार्टी वर्तमान विधानसभा चुनाव में मध्य प्रदेश की सभी 230 सीट पर दमदारी से चुनाव लड़ेगी एवं इस हेतु हर कस्बे शहर गांव की चौपालों पर पहुंच कर आम आदमी की समस्याओं को समझकर अपना घोषणापत्र बना चुकी है , उन्होंने बताया कि वर्तमान में विगत 2 वर्ष से पार्टी बिजली और किसानों के मुद्दे पर प्रदेश सरकार को घेर रही है, जिस का ही परिणाम है कि चुनावी सीजन में हार के डर से शिवराज ने 200 रुपए प्रतिमाह पर गरीबों को बिजली देने की योजना निकाली है , आज हमें डोर टू डोर घर-घर जा कर यह बताना होगा कि मोदी और शिवराज सरकार बेरोजगारी के मुद्दे पर बिजली के मुद्दे पर किसान के मुद्दे पर स्वास्थ्य के मुद्दे पर शिक्षा के मुद्दे पर पूरी तरह फेल हो चुकी है और इसलिए आलोक अग्रवाल के सक्षम नेतृत्व में आम आदमी पार्टी को आगे लाना है.
ब्यावरा विधानसभा से घोषित प्रत्याशी कालूराम ऐसैया ने अपने संबोधन मे कहा दिल्ली की तर्ज पर मध्यप्रदेश में भी आम आदमी पार्टी आम जनता के बीच से प्रत्याशी चयन हेतु आवेदन मांग रही है एवं पारदर्शिता अपनाकर प्रत्याशी चयन प्रक्रिया अपना रही है, ताकि ईमानदार कर्मठ व्यक्तित्व आगे आये, आप ने अपने घोषणापत्र में वादा किया है कि पार्टी की सरकार बनने पर किसानो को खेती के लिए मुफ्त बिजली दी जावेगी, बेरोजगारों में 12वी पास को 1500 रुपए , ग्रेजुएट को 2000 व पोस्ट ग्रेजुएट को 2500 रुपए बेरोजगारी भत्ता ,विकलांग व विधवा पेंशन 2500 रुपए दिये जाने की घोषणा शामिल है,
इस अवसर पर पार्टी के राजगढ़ विधानसभा के घोषित प्रत्याशी गोवर्धन तंवर ने बैठक में उपस्थित युवाओं को इस व्यवस्था परिवर्तन की लड़ाई मे शामिल होने का आह्वान किया, खिलचीपुर विधानसभा प्रभारी बाबू अली खान ने अपने संबोधन में कहा कि हम सभी साथियों को आम आदमी पार्टी का कारवां बढ़ाना है सभी को कंधे से कंधा मिलाकर इस व्यवस्था परिवर्तन की लड़ाई को जात पात धर्म के भेद भाव से ऊपर उठकर लड़ना होगा , लोकसभा सचिव देवकीनंदन पंचोली ने अपने संबोधन में कहा कि मैंने वन विभाग की नौकरी से कंपलसरी रिटायरमेंट लेकर व्यवस्था परिवर्तन की लड़ाई के लिए आम आदमी पार्टी की यही छापीहेड़ा में ही एक सभा सुनने के दौरान ज्वाइन की और तब से लगातार राजगढ़ जिले में पार्टी को खड़ी करने के लिए संघर्ष जारी है और यह संघर्ष इसलिए है कि मध्य प्रदेश में शिक्षा और स्वास्थ्य जो कि सेवा के माध्यम है, उन्हें धंधा बना दिया गया है और इस व्यवस्था को बदलने की जवाबदारी हमें उठानी ही होगी, बैठक मे ब्यावरा किसान मोर्चा तहसील संयोजक ज्ञान सिंह पवार, पार्टी के जिला सह संयोजक रामचंद्र दांगी, पवन दांगी , मोहन दांगी, पवन विश्वकर्मा, मोहन दांगी खिलचीपुर आदि सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित थे।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

Ram Mandir निर्माण के लिए Rajasthan के लोगों ने दिया सबसे ज्यादा चंदा

जयपुर: विश्व हिंदू परिषद (VHP) के केंद्रीय उपाध्यक्ष और श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के …