मुख्य पृष्ठ >> अंतर्राष्ट्रीय >> तेजस्विनी बनी मिसेज ग्लोबल वर्ल्ड प्रिंसेज साउथ अफ्रीका 2018

तेजस्विनी बनी मिसेज ग्लोबल वर्ल्ड प्रिंसेज साउथ अफ्रीका 2018

देवरिया 24 सितम्बर 2018 । देवरिया की तेजस्विनी सिंह ने दक्षिण अफ्रीकी के शहर जोहान्सबर्ग में आयोजित मिसेज़ ग्लोबल इंटरनेशनल वर्ल्ड 2018 प्रिन्सेस श्रेणी की विजेता बनने में सफल रहीं हैं। पांच दिनों तक लगातार चली इस कठिन प्रतियोगिता में तेजस्विनी ने प्रत्येक चरण में बढ़त बनाए रखा।

देवरिया के खेमादेई के स्वर्गीय रामसिंह की बेटी व कुंवर राजदेव सिंह की पोती तेजस्विनी सिंह ने विश्व विजेता बन जिले का मान बढ़ाया है। प्रतियोगिता के कंट्री कल्चर राउंड में तेजस्विनी के कपड़ों में राधा कृष्ण का समागम एक साथ देखने को मिला। वहीं भारतीय घाघरे में पूरे देश के हर राज्य की ख़ास कला को पिरोया गया। भव्य स्टेज पर टैलेंट राउंड में तेजस्विनी ने भारतीय संस्कृति के कथक व भरतनाट्यम का फ्यूजन नृत्य प्रस्तुत किया था। मलेशिया और रूस को पीछे छोड़ तेजस्विनी ने मुख्य विजेता का खिताब हासिल किया। साथ ही तेजस्विनी को उनकी टैलेंट में बेहतरीन परमार्फेंस देखते हुए ‘मोस्ट विवेशियंस’ का टाईटल भी दिया गया। फाइनल का परिणाम में जैसे ही स्क्रीन पर भारत का नाम बतौर मुख्य विजेता लिया गया वहां मौजूद लोग इंडिया इंडिया के नारे लगाने लगे। प्रतियोगिता के समापन पर बतौर सम्मान भारत का राष्ट्रगान गाया गया।

बकौल तेजस्विनी इस सफलता के पीछे उनकी कई साल की कड़ी मेहनत और मां निर्मला सिंह का संघर्ष है। वह आर्गेनिक ग्रीन नाम से हर्बल उत्पाद की कंपनी चलाती हैं। इस शानदार जीत के बाद तेजस्विनी अपना पूरा समय कैंसर व अन्य गम्भीर बीमारियों से लड़ने के लिए प्राकृतिक इलाज की खोज पर काम करेंगी। वर्तमान में वह मैनेजमेंट के छात्रों के लिए पूरे विश्व भर के नामी लेखकों द्वारा लिखी जा रही किताब ‘द शिफिंटग गोल्स पोस्ट: टेक्नॉलॉजी व मैनेजमेंट ट्रेंड्स” के अहम चैप्टर” अपकमिंग ट्रेंड्स आन हर्बल नैचुरल हेल्थ एंड ब्यूटी ग्लोबल इंडस्ट्री” लिखेंगी। इस लेखक समूह में तेजस्विनी सबसे कम आयु की लेखिका हैं।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

कोरोना की तीसरी लहर आई तो बच्चों को कैसे दें सुरक्षा कवच

नई दिल्ली 12 मई 2021 । भारत में कोरोना वायरस की दूसरी लहर से हाहाकार …