मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> फिल्म रिलीज से पहले The Accidental Prime Minister के डायरेक्टर अरेस्ट

फिल्म रिलीज से पहले The Accidental Prime Minister के डायरेक्टर अरेस्ट

नई दिल्ली 4 अगस्त 2018 । फिल्मकार विजय रत्नाकर गुट्टे को 34 करोड़ रुपये से ज्यादा की वस्तु एवं सेवा कर (जीसीटी) धोखाधड़ी मामले में गिरफ्तार किया गया है। जीएसटी विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि वस्तु एवं सेवा कर खुफिया महानिदेशालय (डीजीजीएसटीआई) ने गुरूवार को ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ के निर्देशक गुट्टे को गिरफ्तार किया और यहां की मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट अदालत में पेश किया। अदालत ने उन्हें 14 अगस्त तक के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया। उन्होंने कहा कि गुट्टे को सीजीएसटी अधिनियम की धारा 132 (1) (सी) के तहत गिरफ्तार किया गया। धारा 132 (1)(सी) वस्तु या सेवाओं की आपूर्ति के बिना जारी किए गए बिल का इस्तेमाल कर गलत तरीके से इन्पुट टैक्स क्रेडिट प्राप्त करने से जुड़ा़ है।

अधिकारी ने बताया कि गुट्टे की कंपनी वीआरजी डिजिटल कॉर्प प्राइवेट लिमिटेड ने कथित रूप से एनीमेशन और दूसरी सेवाओं के लिए एक दूसरी कंपनी होरिजन आउटसोर्स सोल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड से 34.37 करोड़ रुपये के जीएसटी संबंधी 149 फर्जी बिल हासिल किए। एजेंसी ने कहा कि ऐसा कर गुट्टे और उनकी कंपनी ने धोखाधड़ी की और सरकारी खजाने को नुकसान पहुंचाया। इस साल मई में डीजीजीएसटीआई ने जीएसटी संबंधी कथित धोखाधड़ी के लिए होरिजन आउटसोर्स सोल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक को गिरफ्तार किया था।गुट्टे ‘इमोशनल अत्याचार, ‘टाइम बारा वेट और ‘बदमाशियां’ जैसी फिल्मों का निर्माण कर चुके हैं। ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर निर्देशक के रूप में उनकी पहली फिल्म है। फिल्म इस साल 21 दिसंबर को रिलीज होगी। ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर प्रधानमंत्री के रूप में मनमोहन सिंह के कार्यकाल और उनके कामकाज के तरीकों पर उनके तत्कालीन मीडिया सलाहकार संजय बारू द्वारा लिखी गयी इसी नाम की किताब पर आधारित है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

पंजाब कांग्रेस का सस्पेंस बरकरार, नाराज सुनील जाखड़ को अपनी फ्लाइट में दिल्ली लाए राहुल-प्रियंका गांधी

नई दिल्ली 23 सितम्बर 2021 । चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बनाने के बावजूद पंजाब …