मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> केंद्र सरकार, केंद्रीय जन स्वास्थ्य टीमों का गठन कर दिल्ली समेत 10 राज्यों में कोविड-19 से ज्यादा प्रभावित 20 जिलों में तैनात करेगी

केंद्र सरकार, केंद्रीय जन स्वास्थ्य टीमों का गठन कर दिल्ली समेत 10 राज्यों में कोविड-19 से ज्यादा प्रभावित 20 जिलों में तैनात करेगी

नई दिल्ली 4 मई 2020 । केंद्र सरकार, केंद्रीय जन स्वास्थ्य टीमों का गठन कर दिल्ली समेत 10 राज्यों में कोविड-19 से ज्यादा प्रभावित 20 जिलों में तैनात करेगी ताकि वायरस की रोकथाम के लिए शुरू की गयी योजनाओं और उपायों की सीधी निगरानी की जा सके. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार इन टीमों को 20 जिलों महाराष्ट्र में मुंबई, ठाणे और पुणे, मध्य प्रदेश में भोपाल और इंदौर, गुजरात में अहमदाबाद, सूरत और वडोदरा, दिल्ली में दक्षिण पूर्व और मध्य जिले, राजस्थान में जयपुर और जोधपुर, उत्तर प्रदेश में आगरा और लखनऊ, तेलंगाना में हैदराबाद, तमिलनाडु में चेन्नई, पश्चिम बंगाल में कोलकाता और आंध्र प्रदेश में कुर्नूल, गुंटूर और कृष्णा में तैनात किया जाएगा. दो मई को जारी एक ज्ञापन के अनुसार इन टीमों में राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र (NCDC), AIIMS, JIPMER और ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ हाइजीन एंड पब्लिक हेल्थ के विशेषज्ञ शामिल हैं. वे सभी अपने अवलोकन के आधार पर इलाकों में सुधार के सुझावों सहित अपनी रिपोर्ट राज्यों के अतिरिक्त मुख्य सचिव / प्रमुख सचिव / सचिव (स्वास्थ्य) को पेश करेंगे.”

एक अधिकारी ने कहा, ‘‘स्वास्थ्य मंत्रालय ने चयनित जिलों में कोविड-19 की रोकथाम में स्वास्थ्य विभागों की सहायता के लिए जन स्वास्थ्य टीमों को तैनात करने का निर्णय लिया गया है.” सभी 20 जिले रेड जोन में हैं.

शर्मनाक कोरोना संधिग्ध को शौचालय में ही कर दिया क्वेरेंनटाइन। खाना भी वही खाया।।

कोरोनावायरस के तेजी से फैल रहे संक्रमण के बीच लगता है अब पैरामेडिकल स्टाफ भी खुद उपचार मांग रहा है ।।।यही नहीं अब तो जिम्मेदारो ने मानवता को भी ताक पर रख दिया है ,,,,,और ऐसे से कारनामे सामने आ रहे हैं जिससे कि इंसानियत की भी रूह कांप उठे । कोरोनावायरस के संदिग्ध मरीज को इलाज मिलने के पहले ही क्वॉरेंटाइन के लिए जिस जगह का चयन किया गया उसका नाम सुनकर आपके होश उड़ जाएंगे जी हां जिम्मेदारों ने मरीज को शौचालय मैं ही क्वॉरेंटाइन कर दिया गया जहां चहुँओर गंदगी और बदबू का अंबार लगा हुआ है अब यह मामला सुर्खियों में आने के बाद जिम्मेदार अपनी अपनी जवाबदेही दूसरों पर उड़ेल रहे हैं।।।ये बेहद शर्मनाक हालात गुना जिले की ग्राम पंचायत टोडर का है।। जहां मजदूर परिवार को स्कूल के शौचालय में क्वॉरेंटाइन के लिए डाल दिया गया। मजदूर मरीज की पत्नी जब खाना देने आई तो घटना का पता चला।। और तो ओर दोनो पति पत्नी ने शौचालय में खाना खाने को है मजबूर हुए।। अब यह घटना मुख्यमंत्री को भेजी जा रही है।

भाजपा पार्षद की कोरोना संक्रमित होने के बाद उपचार के दौरान हुई दुःखद मौत
भाजपा पार्षद मुजफ्फर हुसैन लगातार भोजन वितरित करने का कार्य करते हुए कोरोना से संक्रमित हो गए थे । संक्रमित होने के बाद आरडी गार्डी अस्पताल में उपचार के लिए भेजा गया था । रविवार कि शाम पार्षद मुजफ्फर हुसैन का दुःखद निधन हो गया है ।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

सुनील गावस्कर ने बताया, महेंद्र सिंह धोनी के बाद कौन सा बल्लेबाज नंबर-6 पर बेस्ट फिनिशर की भूमिका निभा सकता है

नयी दिल्ली 22 जनवरी 2022 । दक्षिण अफ्रीका दौरे पर टेस्ट के बाद भारत को …