मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> उत्तरप्रदेश >> अखिलेश की सरकार में जो गुंडे खिलखिलाते थे, योगी सरकार में जेलों में बिलबिला रहे : शिवराज

अखिलेश की सरकार में जो गुंडे खिलखिलाते थे, योगी सरकार में जेलों में बिलबिला रहे : शिवराज

मऊ 04 मार्च 2022 ।  मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को सपा प्रमुख अखिलेश यादव पर आरोपों की बौछार करते हुए कहा कि ‘जो गुंडे अखिलेश सरकार में खिलखिलाते थे, वे योगी सरकार में जेलों में बिलबिला रहे हैं।’ मऊ जिले के घोसी विधानसभा क्षेत्र के जूनियर हाई स्कूल सरायसादी में भारतीय जनता पार्टी की चुनावी जनसभा में शिवराज सिंह चौहान ने पूर्ववर्ती सपा सरकार के दिनों की याद दिलाते हुए जनता को सपा से बचने की सलाह दी। अखिलेश यादव की औरंगजेब से तुलना करते हुये उन्होंने कहा कि जिस तरह से औरंगजेब ने अपने पिता को जेल में कैद कर शासन हथिया लिया था उसी प्रकार से अखिलेश ने अपने पिता को कुर्सी से उतार कर उन्हें घर में कैद कर दिया और पार्टी एवं कुर्सी पर कब्जा कर लिया है। चौहान ने कोरोना काल में भाजपा सरकार के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा, “प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना काल में टीका बनवाया और बबुआ (अखिलेश यादव) ने चोरी से जाकर रात के अंधेरे में वैक्सीन लगवा ली और लोगों को कहते रहे कि यह भाजपा का टीका है।” उन्होंने कहा कि योगी की सरकार में अपराधी जेलों में हैं और डरे हुए हैं लेकिन सपा के शासन में जनता का खून पीते थे, और आतंक फैलाते थे। चौहान ने कहा, “विपक्ष कह रहा है कि योगी और मोदी का परिवार नहीं है। अरे, जिसका पूरा देश और पूरा प्रदेश परिवार हो उससे ज्यादा दूसरे के सुख-दुख कौन समझ सकेगा।” मुख्यमंत्री ने कहा कि सपा शासनकाल में दंगे हुए जिसके कारण अखिलेश यादव को दंगेश कहा जा रहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार बनने के बाद इस विधानसभा क्षेत्र में पृथ्वीराज चौहान की मूर्ति लगेगी जिन्होंने मोहम्मद गोरी को 18 बार सीधा युद्ध में पराजित किया था, 19 वीं बार गोरी ने धोखे से पृथ्वीराज चौहान को बंदी बनाया था। उल्लेखनीय है कि चुनाव से पहले उत्तर प्रदेश सरकार के वन मंत्री से इस्तीफा देकर भाजपा पर दलितों और पिछड़ों की उपेक्षा का आरोप लगाने वाले दारा सिंह चौहान घोसी विधानसभा क्षेत्र से समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार हैं और यहां भाजपा से मौजूदा विधायक विजय राजभर किस्मत आजमा रहे हैं। शिवराज चौहान ने कहा कि यूक्रेन से भारतीय छात्रों को वापस लाने के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने मिशन गंगा चलाया है जबकि कोरोना महामारी काल में मिशन चलाकर लोगों को विदेशों से लाकर भारत में उनके घरों तक पहुंचाया गया।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

ज्ञानवापी मस्जिद का सर्वे पूरा, हिंदू पक्ष ने किया दावा-‘बाबा मिल गए’; कल कोर्ट में पेश होगी रिपोर्ट

नयी दिल्ली 16 मई 2022 । ज्ञानवापी मस्जिद का सर्वे पूरा हो गया है। तीसरे …