मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> राजसी ठाट बाट के साथ उज्जैन में आज बाबा महाकाल की शाही सवारी निकाली गई

राजसी ठाट बाट के साथ उज्जैन में आज बाबा महाकाल की शाही सवारी निकाली गई

उज्जैन 27 अगस्त 2019 । सावन-भादो मास की अंतिम अर्थात शाही सवारी में भगवान महाकाल अपनी चतुरंगी सेना के साथ नगर भ्रमण पर निकले। पुलिस द्वारा बाबा की पालकी को गार्ड ऑफ आनर देने के बाद सवारी की शुरुआत हुई। बाबा की एक झलक पाने के लिए लाखो भक्तो का हुजूम सडको पर देखा गया। वहीँ पुरे शहर को आज दुल्हन की तरह सजाया गया। परंपरा अनुसार सावन-भादो मास में बाबा महाकाल की सवारी निकलती हे। इस वर्ष बाबा की कुल 06 सवारी निकाली गई। आज अंतिम सवारी में पालकी के अलावा एक साथ बाबा के छह रूपों के दर्शन भी हुए। सवारी दर्शन के लिए देशभर से लाखो श्रद्धालुओं का सैलाब यहां उमडा हुआ है । शाही सवारी में प्रदेश सरकार के कई कई मंत्री शामिल हो रहे है। प्रभारी मंत्री सज्जन वर्मा, खाद्य नागरिक आपूर्ति मंत्री प्रधुम्न सिंह तोमर, राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविन्द सिंह राजपूत व स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट शामिल होंगे। परम्परा अनुसार पुर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया रात 9 बजे गोपाल मंदिर पर पालकी का पूजन करेंगे।

महाकालेश्वर मंदिर से शाम चार बजे बाबा महाकाल की सवारी लावो लश्कर के साथ शुरू हुई। शाम चार बजे पूजन के बाद राजा महाकाल को चाँदी की पालकी में बैठाकर मंदिर से बाहर लाया गया। मंदिर के द्वारा पर पुलिस जवानों की टुकड़ी द्वारा गॉड ऑफ़ ऑनर दिया गया।पालकी में महाकाल बाबा चन्द्र्मोलेश्वर रूप में विराजित थे। वहीँ पालकी के पीछे बाबा के अन्य मुखौटो को रथो पर निकाला गया।

मान्यता हे की भगवान महाकाल सवारी के रूप में अपनी प्रजा का हाल जानने के लिए नगर भ्रमण पर निकलते हे। वहीँ अपने राजा की एक झलक पाने के लिए प्रजा भी घंटो तक सडक के किनारे इंतजार करती है। परम्परा अनुसार सवारी महाकाल मंदिर से शुरू होकर नगर भ्रमण करते हुए शिप्रा नदी पहुँचती है जहाँ पूजन अभिषेक के बाद पुन मंदिर लोट आती है।

बाबा की सवारी में झांज, मंझीरे, ढोलक, डमरू और बेंड के संगीत से सारा शहर गुजं उठा। चारो और बोल बम व जय महाकाल के जयकारो की आवाज सुनाई दे रही थी। भजन मंडलियाँ झूमते गाते हुए चल रही थी। गाजे बाजे के साथ निकली शाही सवारी का सफर लगभग 7 किलोमीटर का है।
सवारी की सुरक्षा के लिए प्रशासन ने पुख्ता इंतजाम किये है। दो हजार पुलिस कर्मी, लगभग 2 दर्जन सीएसपी, एसडीओपी सहित 50 से ज्यादा इंस्पेक्टर सुरक्षा में लगे हुवे है। वहीँ दूसरी और करीब 100 सीसीटीवी केमरे व डोम केमरे भी लगाये गए है। साथ ही सवारी में व्यवस्था बनाए रखने के लिए कई सामाजिक संघठन भी अपना योगदान दे रहे है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

सुनील गावस्कर ने बताया, महेंद्र सिंह धोनी के बाद कौन सा बल्लेबाज नंबर-6 पर बेस्ट फिनिशर की भूमिका निभा सकता है

नयी दिल्ली 22 जनवरी 2022 । दक्षिण अफ्रीका दौरे पर टेस्ट के बाद भारत को …