मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> माया की सक्रियता वापसी का संकेत तो नहीं?

माया की सक्रियता वापसी का संकेत तो नहीं?

उज्जैन 3 जनवरी 2019 । टिकट नहीं मिलने से नाराज होकर उज्जैन उत्तर से कांग्रेस के अधिकृत उम्मीदवार राजेन्द्र भारती के खिलाफ निर्दलीय चुनाव मैदान में कूदकर बगावत करने वाली कांग्रेस नेत्री ( कांग्रेस से निष्कासन से पूर्व) माया त्रिवेदी भले ही चुनाव हार गई हो और कांग्रेस के अधिकृत उम्मीदवार राजेन्द्र भारती की भी लुटिया डुबो दी हो और उनके इस जुर्म के कारण कांग्रेस ने अनुशासन हीनता मानकर माया त्रिवेदी को 6 साल के लिए कांग्रेस से निष्कासित कर दिया हो लेकिन मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार उज्जैन आये मुख्यमंत्री कमलनाथ के करीब डेढ़ घँटे के प्रवास के दौरान वे अपनी टीम के साथ जिस तरह सक्रिय दिखीं और महाकाल मंदिर में सीएम के दर्शन पूजन के समय वहां कांग्रेसियों के बीच मौजूद रहीं उससे शहर में ये चर्चा चल पड़ पड़ी है कि जल्द ही कांग्रेस में उनकी वापसी भी हो जाएगी। ये भी संभव है कि लोकसभा चुनाव के पहले ही कांग्रेस को री ज्वाइन करने की उन्हें हरी झंडी दे दी जाए। यानी कांग्रेस में वापसी की राह में उनकी उतनी कठिन नहीं है जितना अंदाजा लगाया जा रहा था। वैसे भी अगर लोकसभा चुनाव से पूर्व अगर कांग्रेस के बागियों और भीतरघातियों की कांग्रेस में वापसी होती है तो ये कांग्रेस के लिए टॉनिक की तरह होगी। बहरहाल सूत्रों की मानें तो।माया त्रिवेदी को फिर से कांग्रेस में लाने की पटकथा लिखवाने का काम शुरू हो गया है। ये काम सीएम कमलनाथ के सबसे खास ही कर रहे हैं।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

बिना लगेज सफर करने वाले एयर पैसेंजर्स को किराए में छूट मिलेगी

नई दिल्ली 27 फरवरी 2021 ।  डोमेस्टिक एयर पैसेंजर्स को अब बैगेज नहीं ले जाने …