मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> पत्रकारों को निजी बस यात्रा के लिए सुविधाएँ देने पर विचार

पत्रकारों को निजी बस यात्रा के लिए सुविधाएँ देने पर विचार

भोपाल 6 जनवरी 2019 । राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविन्द सिंह राजपूत ने कहा कि राज्य में निजी बसों में पत्रकारों को आवश्यक सुविधाएँ देने पर विचार किया जाएगा। पूर्व में मध्यप्रदेश में राज्य परिवहन निगम की बसों में पत्रकारों को सीट आरक्षण और यात्रा में रियायत मिलती थी। चूँकि निगम बंद हो चुका है, इसलिये निजी बसों में पत्रकारों को सुविधाएँ देने पर विचार करेंगे। इस संबंध में विचार-विमर्श कर शीघ्र ही निर्णय लिया जाएगा। मंत्री राजपूत आज एक निजी टीवी चैनल द्वारा आयोजित नव वर्ष मिलन कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। मंत्री राजपूत ने कहा वर्तमान में ग्रामों से कस्बों के बीच परिवहन सुविधा में कुछ कमियाँ हैं जिन्हें दूर किया जाएगा। शहरों के साथ ही ग्रामीण परिवहन पर फोकस करेंगे। इसी तरह बड़े नगरों के मध्य रात्रिकालीन बसें भी चलेंगी। परिवहन मंत्री राजपूत ने कहा कि ग्वालियर मेले में वाहनों पर रोड टैक्स छूट 50 प्रतिशत रहेगी।

राजपूत ने कहा है कि प्रदेश में जनता की राजस्व संबंधी समस्याएँ सुलझाने के लिये 16 फरवरी से राजस्व न्यायालय कार्य करेंगे। इसके साथ ही अतिक्रमण हटाने पर भी ध्यान दिया जाएगा। राजस्व अमले को अधिक सक्षम बनाने पर ध्यान देंगे और प्रत्येक स्तर पर भ्रष्टाचार पर रोक भी लगेगी। भ्रष्ट आचरण को बर्दाश्त नहीं किया जायेगा।

मध्यप्रदेश में नरोत्तम मिश्रा को मिल सकती है नेता प्रतिपक्ष की जिम्मेदारी
मध्यप्रदेश में सत्ता परिवर्तन के बाद जहां एक और कांग्रेस को नई कैबिनेट के गठन को लेकर 3 दिन तक मशक्कत करना पड़ी वहीं भाजपा में प्रतिपक्ष नेता के पद को लेकर घमासान मचा हुआ है। नेता प्रतिपक्ष के चयन के हेतु गृहमंत्री राजनाथ सिंह और सहस्त्रबुद्धे को मध्य प्रदेश की जिम्मेदारी सौंपी गई है। आप भाजपा के सभी निर्वाचित विधायकों से चर्चा के बाद नेता प्रतिपक्ष का नाम प्रस्तावित करवाएंगे। नेता प्रतिपक्ष के लिए सबसे पहला नाम पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का सामने आया था लेकिन श्री चौहान ने इस जिम्मेदारी को लेने से इंकार कर दिया है। अब प्रदेश के कद्दावर नेता नरोत्तम मिश्रा के नाम पर मुहर लगने की संभावना भाजपा के सूत्र जता रहे हैं।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

भस्मासुर बना तालिबान, अपने ही सुप्रीम लीडर अखुंदजादा का कत्ल; मुल्ला बरादर को बना लिया बंधक

नई दिल्ली 21 सितम्बर 2021 । अफगानिस्तान में सत्ता पाने के बाद आपस में खूनी …