मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> श्रीनगर आतंकी हमले में तीसरा जवान शहीद, कई की हालत नाजुक; फायरिंग से पंचर हो गई थी बस

श्रीनगर आतंकी हमले में तीसरा जवान शहीद, कई की हालत नाजुक; फायरिंग से पंचर हो गई थी बस

नयी दिल्ली 14 दिसंबर 2021 । श्रीनगर में सोमवार को हुए आतंकी हमले में शहीद पुलिसकर्मियों की संख्या बढ़कर तीन हो गई है। दो पुलिसकर्मियों ने सोमवार को ही इलाज के दौरान अस्पताल में दम तोड़ दिया था, जबकि एक की हालत गंभीर बनी हुई थी। फिलहाल 11 जख्मी जवानों का अस्पताल में इलाज चल रहा है। इनमें भी तीन लोगों की हालत चिंताजनक बनी हुई है। कश्मीर जोन के पुलिस अधिकारियों के अनुसार सोमवार को श्रीनगर के बाहरी इलाके जेवन के पंथा चौक पर आतंकियों ने पुलिस बस को निशाना बनाकर फायरिंग कर दी थी। आतंकियों ने घात लगाकर यह हमला किया था और बस के टायरों में गोलियां दागकर उसे पंचर कर दिया था। यही नहीं पुलिसकर्मियों के पास हथियारों की कमी भी एक वजह थी कि आतंकियों ने इतना भीषण हमला किया। शाम को करीब छह बजे जब जम्मू-कश्मीर सशस्त्र पुलिस की नौवीं बटालियन के जवानों को लेकर बस जेवन स्थित पुलिस ट्रेनिंग कैंप के करीब पहुंची। इसी दौरान पहले से घात लगाए बैठे तीन से चार आतंकियों ने बस पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। जब तक जवान मोर्चा संभालते आतंकी बस पर घातक हमले को अंजाम देकर मौके से फरार हो गए। कश्मीर जोन पुलिस के अनुसार शहीद हुए जवानों में एएसआई गुलाम हसन निवासी टॉप नील, रामबन और सलेक्शन ग्रेड कांस्टेबल शफीक अली निवासी माहौर रियासी शामिल हैं। इसके अलावा अस्पताल में भर्ती तीन अन्य पुलिसकर्मियों की हालत नाजुक है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि इलाके की नाकाबंदी कर सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है। इससे पूर्व कश्मीर जोन पुलिस ने ट्वीट कर बताया था कि आतंकी हमले में 14 पुलिसकर्मी घायल हो गए हैं। सभी घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। गौरतलब है कि यह आतंकी हमला ऐसे वक्त में हुआ है, जब देश 13 दिसंबर 2001 को संसद भवन में हुए आतंकी हमले में शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दे रहा था। तब आतंकी हमले में नौ सुरक्षाकर्मियों की मौत हो गई थी। सुरक्षाबलों ने जवाबी कार्रवाई में सभी पांचों आतंकवादियों को मार गिराया था।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

नरेश पटेल की एंट्री के कयास ने लिखी हार्दिक पटेल के एग्जिट की पटकथा

नयी दिल्ली 18 मई 2022 । कांग्रेस से लंबे समय से नाराज चल रहे गुजरात …