मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> इस साल बदल गई मकर संक्रांति की तारीख

इस साल बदल गई मकर संक्रांति की तारीख

नई दिल्ली 7 जनवरी 2019 । पिछले साल की तरह इस साल भी मकर संक्रांति 14 के बजाय 15 जनवरी को मनाई जाएगी। पौष माह में सूर्य के धनु से मकर राशि में जाने पर यह पर्व मनाते हैं। अमूमन हर साल 14 जनवरी को सूर्य मकर में प्रवेश करता है, लेकिन इस साल यह स्थिति सूर्योदय मान के साथ 15 जनवरी को होगी। इस दिन सुबह 6:42 से 9:25 बजे तक रहेगा सर्वार्थ सिद्धि योग रहेगा। , इस दौरान पूजा-दान का विशेष फल प्राप्त होगा।

लखनऊ के इंदिरा नगर के रहने वाले आचार्य शक्तिनाथ ने बताया कि संक्रांति 14 जनवरी की रात 2:12 बजे से लग रही है, लेकिन सूर्योदय मान 15 जनवरी सुबह 6:42 बजे से मिलेगा। इसके बाद से सहालग भी शुरू हो जाएंगे। इस महीने 17, 22, 25, 26, 29 और 31 तारीख को शादी के श्रेष्ठ मुहूर्त हैं।

खिचड़ी का लगता है भोग

इस दिन से सूर्य उत्तरायण होता है। परंपराओं में ऐसी मान्यता है कि इसी दिन सूर्य मकर राशि में प्रवेश करता है। मकर संक्रांति के दिन खिचड़ी का भोग लगाया जाता है। गुड़-तिल, रेवड़ी, गजक का प्रसाद बांटा जाता है। यह त्योहार प्रकृति, ऋतु परिवर्तन और खेती से जुड़ा है। इन्हीं तीन चीजों को जीवन का आधार भी माना जाता है। प्रकृति के कारक के तौर पर इस दिन सूर्य की पूजा होती है। सूर्य की स्थिति के अनुसार ऋतुओं में बदलाव होता है और धरती अनाज पैदा करती है। अनाज से जीव समुदाय का भरण-पोषण होता है।

15 जनवरी को बन रहा सर्वार्थ सिद्धि योग

इस बार मकर संक्रांति की खास बात यह है कि इस बार चार संयोग भी बन रहे हैं। मकर संक्रांति के साथ ही सूर्य के दक्षिणायण से उत्तरायण होने के कारण भारत सहित उत्तरी गोलार्ध के क्षेत्रों में सूर्य की किरणें सीधी पडऩे से ऋतु परिवर्तन भी होगा। इससे दिन बड़े व रातें छोटी होने लगेंगी। ज्योतिषियों के मुताबिक इस बार पौष माह के शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि पर सोमवार 14 जनवरी को रेवती नक्षत्र में मकर संक्रांति का पर्व मनाया जाएगा। दूसरी ओर 15 जनवरी को सुबह से ही अमृत सिद्धि, सर्वार्थ सिद्धि, मंगलाश्विनी अमृतसिद्धि योग व राजप्रद योग का संयोग बन रहा है। चूंकि इस बार संक्रांति का वाहन सिंह और उपवाहन हाथी है, इस कारण साल भर काम की अधिकता औऱ राजनीतिक परिवर्तन सहित कई अन्य बदलाव देखने को मिलेंगे।

मकर संक्रांति के दिन राशि के अनुसार करें दान

मेष : तांबा की वस्तु, दही
वृष : चांदी, तिल
मिथुन : पीला वस्त्र, गुड़
कर्क : सफेद ऊन, तिल
सिंह : गुड़, गेहूं
कन्या : हरा मूंग, तिल
तुला : गुड़, सात तरह के अनाज
वृश्चिक : लाल वस्त्र, दही
धनु : पीला वस्त्र, गुड़
मकर : कंबल, गुड़
कुंभ : कंबल, घी
मीन : चना दाल, तिल

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

लगातार बढ़ रही हैं PM मोदी की उपलब्धियां, अब मिलने वाला है एक और इंटरनेशल अवॉर्ड

नई दिल्ली 28 फरवरी 2021 । प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी अगले सप्ताह एक वार्षिक अंतरराष्ट्रीय …