मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> पहाड़ों पर जा रहे सैलानी रहें सावधान! देहरादून, नैनीताल में भारी बारिश का अलर्ट

पहाड़ों पर जा रहे सैलानी रहें सावधान! देहरादून, नैनीताल में भारी बारिश का अलर्ट

नई दिल्ली 06 जुलाई 2021 । उत्तर प्रदेश, दिल्ली समेत उत्तर भारत के अधिकतर राज्यों में गर्मी बढ़ने के साथ ही पर्यटकों ने पहाड़ों की ओर रुख करना शुरू कर दिया है. उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश जैसे हिल स्टेशनों पर बड़ी संख्या में सैलानी पहुंच रहे हैं. कोरोना संक्रमण की दूसरी रफ्तार थमने के साथ अनलॉक शुरू होते ही नैनीताल, सोलन और मनाली भी पयर्टकों से गुलजार हैं. लेकिन आने वाले दिनों में पर्यटकों को कुछ परेशानी का सामना भी करना पड़ सकता है. दरअसल, मौसम विभाग ने 7, 8, 9 और 10 जुलाई के लिए देहरादून, नैनीताल समेत 6 जिलों में बारिश का अलर्ट जारी किया है.

मौसम विभाग ने प्रदेश के पौड़ी, टिहरी, देहरादून, पिथौरागढ़, बागेश्वर और नैनीताल जिलों में बारिश (Rain) की संभावना जताई है. मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक, 7 जुलाई को पिथौरागढ़, बागेश्वर और नैनीताल में भारी बारिश हो सकती है. जबकि 8 जुलाई को इन तीनों जिलों के साथ ही देहरादून, टिहरी और पौड़ी में भी भारी बारिश के साथ बिजली गिरने की भी संभावना है. बता दें कि पहाड़ी इलाकों में भारी बारिश के बाद भूस्खलन की घटनाएं सामने आती हैं. ऐसे में सैलानियों को सतर्क रहने की जरूरत है.

7 जुलाई- नैनीताल, चम्पावत, बागेश्वर और पिथौरागढ़ में आकाशीय बिजली के साथ भारी बारिश की संभावना है.
8 जुलाई- देहरादून, पौड़ी, टिहरी, नैनीताल, बागेश्वर और पिथौरागढ़ में आकाशीय बिजली के साथ साथ भारी बारिश की संभावना है.
9 जुलाई – देहरादून, पौड़ी, टिहरी, नैनीताल, बागेश्वर और पिथौरागढ़ में आकाशीय बिजली के साथ साथ भारी बारिश की संभावना है.
10 जुलाई- देहरादून, पौड़ी, टिहरी, नैनीताल, बागेश्वर और पिथौरागढ़ में आकाशीय बिजली के साथ साथ भारी बारिश की संभावना ह.

पर्यटकों से गुलजार हुआ नैनीताल-मसूरी

कोरोना का संक्रमण कम होते ही नैनीताल और मसूरी गुलजार हो गई है. यहां बड़ी संख्या में पर्यटक पहुंच रहे हैं. जानकारी के मुताबिक, बीते एक सप्ताह के भीतर नैनीताल समेत आसपास के पर्यटन स्थलों में करीब 50,000 से अधिक पर्यटक पहुंचे हैं. यही हाल मसूरी का है. यहां देश के कोने-कोने से सैलानी पहुंच रहे है. पर्यटकों की अधिक संख्या के चलते नैनीताल में जाम की स्थिति भी बन रही है, जिससे पर्यटकों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. कोरोना के चलते बीते डेढ़ साल से नैनीताल समेत उत्तराखंड का पर्यटन पूरी तरह से चौपट था लेकिन संक्रमण कम होने के चलते सैलानी उत्तराखंड का रुख कर रहे हैं, ऐसे में पर्यटन कारोबारियों के चेहरे पर खुशी है. तीसरी लहर से बेफिक्र सैलानी

भारत में भले ही कोरोना की दूसरी लहर अपना प्रचंड रूप दिखाकर खत्म हो चुकी है. लेकिन अभी भी तीसरी लहर की संभावना को लेकर चर्चा जारी है. इसके बावजूद बड़ी संख्या में सैलानी उत्तराखंड और हिमाचल पहुंच रहे हैं. साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क पहनने को लेकर भी कुछ लोग लापरवाही बरत रहे हैं.ऐसे में सवाल ये भी है कि क्या ये कोरोना की तीसरी लहर को दावत देना नहीं है?

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

महिला कांग्रेस नेता नूरी खान ने दिया इस्तीफा, कुछ घंटे बाद ले लिया वापस

उज्जैन 4 दिसंबर 2021 ।  महिला कांग्रेस की नेता नूरी खान के इस्तीफा देने से …