मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> ‘ट्रेन 18’ का नाम अब होगा ‘वंदे भारत एक्सप्रेस’

‘ट्रेन 18’ का नाम अब होगा ‘वंदे भारत एक्सप्रेस’

नई दिल्ली 28 जनवरी 2019 । देश में बनाई गई सबसे तेज रफ्तार रेल ”ट्रेन 18” का नाम बदल दिया गया है. रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि अब इसका नाम ”वंदे भारत एक्सप्रेस”, होगा. सेफ्टी क्लियरेंस, ट्रायल्स और कई टेस्ट्स पास कर लेने के बाद देश में निर्मित सेमी-हाईस्पीड ट्रेन 18 पटरियों पर दौड़ने के लिए तैयार है. इस ट्रेन की खासियत एक यह भी है कि यह देश की पहली बिना इंजन वाली ट्रेन है. रेलवे के अधिकारियों का कहना है कि ट्रेन 18 के टिकट शताब्दी से 40-50 फीसदी तक महंगे होंगे.

ख़बरों के मुताबिक ट्रेन 18 (वंदे भारत एक्सप्रेस) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे. पहली ट्रेन 18 रेल वाराणसी से दिल्ली के बीच चलाया जाएगा वाराणसी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का लोकसभा क्षेत्र है.

बिना इंजन वाली ट्रेन 18 का ट्रैक्शन इक्विपमेंट बोगियों के नीचे लगे हैं. बता दें कि रेलवे सेफ्टी के चीफ कमिश्नर (CCRS) ने शुक्रवार को इसे गैर-राजधानी ट्रैकों पर 105 किलोमीटर प्रति घंटे और राजधानी ट्रैकों पर 160 किमी/घंटे की रफ्तार से दौड़ने की इजाजत दे दी है. सरकार के विद्युत निरीक्षक (EIG) से ट्रेन 18 के ‘नियमित’ संचालन को मंजूरी मिलने के कुछ ही घंटों बाद CCRS से भी इसे हरी झंडी मिल गई.

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

भारत में कोरोना का सबसे बड़ा अटैक, एक दिन में पहली बार 2 लाख 34 हजार नए केस

नई दिल्ली 17 अप्रैल 2021 । कोरोना की दूसरी लहर हर दिन नए रिकॉर्ड बना …