मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> नए नोट कट-फट जाने पर बदलने में नहीं होगी दिक्कत

नए नोट कट-फट जाने पर बदलने में नहीं होगी दिक्कत

नई दिल्ली 8 सितम्बर 2018 । दो हजार और पांच सौ रुपये के कटे-फटे नोट बदलने के लिए बैंकों के चक्कर काट रहे व्यक्तियों के लिए राहत भरी खबर है। भारतीय रिजर्व बैंक ने 2000, 500 और 200 रुपये के नोटों के अलावा नोटबंदी के बाद जारी सभी नए नोटों के कटे-फटे होने पर उन्हें बदलने के लिए नियम बदले हैं। नोट वापसी अधिनियम 2009 में संशोधन करते हुए इसे तत्काल प्रभाव से लागू किया गया है।

शुक्रवार को जारी नोटीफिकेशन के अनुसार ये नियम सभी बैंक शाखाओं में लागू होंगे। बता दें, हमारे सहयोगी प्रकाशन दैनिक जागरण नए नोटों की वापसी का मुद्दा प्रमुखता से उठाता रहा है। इसी समस्या पर दैनिक जागरण ने 29 जुलाई को सेना में सूबेदार अर्जुन सिंह की समस्या प्रकाशित की थी। वह छुट्टी लेकर 40 हजार रुपये के नोट बदलने आए थे लेकिन बदले नहीं जा रहे थे। आरबीआई कानपुर ने इसका संज्ञान लेकर मुख्यालय को अवगत कराया था।

बता दें, आठ नवंबर 2016 को नोटबंदी की घोषणा के बाद जारी हुए 2000, 500, 200 और अन्य नए नोटों के कट-फट जाने पर बदलने का कोई आदेश नहीं था। ऐसे में इन नोटों में जरा भी खामी होने पर यह नोट लोगों के पास अटके रह जाते थे।

बैंकों के साथ आरबीआई ने भी बिना नियम इन नोटों को बदलने से हाथ खड़े कर दिए थे। भारतीय रिजर्व बैंक के मुख्य महाप्रबंधक जोस जे कट्टू ने बताया कि सभी बैंक शाखाओं को नए जारी नोटों को तत्काल प्रभाव से बदलने के आदेश जारी कर दिए गए हैं।

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआइ) ने कुछ खातों में धोखाधड़ी का पता लगाने और उसकी जानकारी देने में देरी पर तीन सरकारी बैंकों पर जुर्माना लगाया है। केंद्रीय बैंक ने यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ इंडिया और बैंक ऑफ महाराष्ट्र पर एक-एक करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है।
रिजर्व बैंक की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक, मास्टर सर्कुलर ऑन फ्रॉड – क्लासीफिकेशन एंड रिपोर्टिंग में दिए गए निर्देशों का पालन नहीं करने पर बैंकों पर 30 अगस्त को जुर्माना लगाया गया। इन बैंकों ने अपने स्तर पर धोखाधड़ी का पता लगाने और उसकी जानकारी देने में देरी की।

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने भी शुक्रवार को रेगुलेटरी फाइलिंग में इस बात की जानकारी दी। बैंक ने कहा कि इस तरह की घटना के दोहराव से बचने के लिए बैंक ने आंतरिक व्यवस्था को सुदृढ़ किया है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

पिता को 3 साल बाद पता चला कि बेटी SI नहीं है, नकली वर्दी पहनती है

जबलपुर 20 अप्रैल 2021 । मध्य प्रदेश के जबलपुर जिले के एक पिता ने कटनी एसपी …