मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> ट्रंप बोले, पुलवामा हमले के बाद हालात बेहद खतरनाक, कुछ बड़ा करने जा रहा इंडिया

ट्रंप बोले, पुलवामा हमले के बाद हालात बेहद खतरनाक, कुछ बड़ा करने जा रहा इंडिया

नई दिल्ली 23 फरवरी 2019 । पुलवामा में सीआरपीएफ जवानों पर कायराना हमले के बाद भारत-पाकिस्तान के बीच पैदा हुए तनाव को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बेहद खतरनाक बताया है. राष्ट्रपति ने कहा है कि उन्हें लगता है इस मामले में वक्त भारत कुछ बड़ा करने की सोच रहा है. इसके साथ ही डोनाल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि उसने अमेरिकी मदद का गलत फायदा उठाया है. ट्रंप ने पाकिस्तान को दी जाने वाली 1.3 बिलियन डॉलर की मदद तत्काल प्रभाव से रोक दी है.

वाशिंगटन स्थित ओवल ऑफिस में पत्रकारों से बात करते हुए ट्रंप ने कहा कि इस समय भारत पाकिस्तान के बीच बेहद खतरनाक चीज चल रही है. उन्होंने पत्रकारों से कहा, “इस वक्त भारत-पाकिस्तान के बीच खतरनाक चीजें हो रही है, यह एक बहुत-बहुत खराब स्थिति है, दोनों देशों के बीच हालात बेहद खराब हैं. हम लोग चाहेंगे कि ये बंद हो, कुछ ही दिन पहले कई लोग मारे गए थे.

आगे ट्रंप ने कहा कि लगता है कि भारत को ‘बहुत कड़ा’ करने की सोच रहा है. ट्रंप ने कहा, “इंडिया कुछ सख्ती से करने पर विचार कर रहा है, भारत ने अभी-अभी अपने 50 लोगों को खोया है, इसके बारे में कई लोग बात कर रहे हैं, लेकिन यहां बहुत नाजुक बैलेंस चल रहा है. अभी जो कुछ कश्मीर में हुआ है इस वजह से इस वक्त भारत पाकिस्तान के बीच काफी दिक्कतें हैं. ये बहुत खतरनाक है.

पाकिस्तान को एक बूंद पानी नहीं देगे : गड़करी
इसकी आंतरिक सुरक्षा के साथ खिलबाड़ बर्दास्त नहीं किया जायेगा। पाकिस्तान तीन बार युद्ध में पराजित हुआ है,इसलिए आंतक व आंंतकबादियों का सहारा ले रहें है। पाकिस्तान आतंक व आतंकबादियों को भारत भेजना बंद नहीं करते है तो हम उसे एक बूंद पानी तक नहीं देेंगे। पाकिस्तान तक जाने वाली तमाम नदियों में बड़े प्रोजेक्ट के तहत काम कर रहें है। इन नदियों का पानी भारत में इस्तेमाल किया जायेगा।
यह बात केन्द्रीय मंत्री नितिन गड़करी ने भाजपा कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहीं। उन्होंने कहा कि इमरान खान करते है कि आंतकबादियों से उनका कोई वास्ता नहीं है। जो आतंकी पकड़े या मारे जाते है और उनके पास मिलने वाले मोबाइल फोन तथा हथियार पाकिस्तानी सेना के होते है,पाकिस्तान झूठ बोलता है। समझौते के तहत भारत व पाकिस्तान को तीन-तीन नदियां मिली थी। पाकिस्तान में जाने वाली झेलम सहित तीनों नदियां भारत से निकलती है। पाकिस्तान ऐसी हरकर करता रहेंगा तो हम एक बूंद पानी तक नहीं देगे। इमरान खान कल से प्रधानमंत्री मोदी तथा मेरा नाम लेकर चिल्ला रहे है।
उन्होंने कहा की मैत्री,भाईचारा दोनो के सहयोग से स्थापित नहीं होता है। पाकिस्तान भारत में आंतकवाद फैला रहा है। पाकिस्तान की गतिविधाएं ऐसी रहेगी तो भारत को मजबूरन ऐसे कदम उठाने पड़ेगे।
इसके पूर्व केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी के मुख्य आतिथ्य और प्रदेश के लोक निर्माण एवं पर्यावरण मंत्री श्री सज्जन सिंह वर्मा की अध्यक्षता में जबलपुर के दमोहनाका में 758 करोड़ 54 लाख रूपए लागत के फ्लाईओव्हर का भूमिपूजन और शिलान्यास किया गया। यह प्रदेश का सबसे बड़ा फ्लाई ओव्हर होगा और पुल की नींव में पाईल फाउण्डेशन तकनीक का उपयोग होगा।
इस अवसर पर संसद सदस्य श्री राकेश सिंह, विधायक श्री संजय यादव, विधायक श्री विनय सक्सेना, विधायक श्री अजय विश्नोई, विधायक श्री अशोक रोहाणी, विधायक श्री सुशील तिवारी इंदु, विधायक श्रीमती नंदिनी मरावी, महापौर श्रीमती स्वाति सदानंद गोडबोले, महाधिवक्ता एडवोकेट श्री राजेन्द्र तिवारी और सामाजिक, धार्मिक तथा राजनैतिक संगठनों के गणमान्य नागरिक मौजूद थे।

बड़ी साजिश नाकाम, यूपी में पकड़ाए जैश के दो आतंकी

लखनऊ। पुलवामा आतंकी हमले के बाद उत्तरप्रदेश में बड़ी आतंकी साजिश का पर्दाफाश हुआ है। यूपी एटीएस ने बड़ी कामयाबी हासिल करते हुए दो आतंकियों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आतंकियों के नाम शहनवाज अहमद और आकिब मलिक है। दोनों का संबंध जैश-ए-मोहम्मद से बतााय गया है।

एटीएस की टीम ने तड़के सहारनपुर के देवबंद से इन आतंकियों को पकड़ा है। शहनवाज अहमद जम्मू के कुलगाम का रहने वाला है। वहीं आकिब पुलवामा का है। इस्लामिक स्टडी के बड़े सेंटर के रूप में विख्यात सहारनपुर के देवबंद में यूपी एटीएस के इस छापा से खलबली मची है।

माना जा रहा है कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा आतंकी हमले में शाहनवाज का हाथ हो सकता है। उत्तर प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह ने इस बारे में विस्तृत जानकारी दी।

उत्तर प्रदेश एटीएस ने देवबंद में आज तड़के छापा मारकर संदिग्धों से पड़ताल की है। इसमें से एक संदिग्ध शाहजवाज को लखनऊ लाया गया है जबकि तीन से सहारनपुर में पूछताछ चल रही है। देवबंद से कश्मीर के साथ ओडिशा के कुछ छात्रों को हिरासत में लिया गया।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

कोरोना की तीसरी लहर आई तो बच्चों को कैसे दें सुरक्षा कवच

नई दिल्ली 12 मई 2021 । भारत में कोरोना वायरस की दूसरी लहर से हाहाकार …