मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> ढाई करोड़ की पुरानी करंसी के साथ दो आरोपी पकड़े

ढाई करोड़ की पुरानी करंसी के साथ दो आरोपी पकड़े

ऊधमसिंह नगर 15 जनवरी 2019। पुलिस ने ढाई करोड़ के पुराने नोट के साथ प्रापर्टी डीलर समेत दो को गिरफ्तार किया है। आरोपित करेंसी को उप्र के मुरादाबाद से लाए थे। पुलिस ने उनके वाहन भी सीज कर लिए हैं। मंगलवार को उन्हें अदालत में पेश किया जाएगा। एसएसपी बरिदरजीत सिह ने सोमवार को कोतवाली में मामले का खुलासा किया। उन्होंने बताया कि आइआइएम रोड स्थित कुंडेश्वरी में कुंवर सिह बिष्ट प्रॉपर्टी के कार्यालय में छापा मारकर करेंसी बरामद की गई।

यहां से स्थानीय निवासी कुंवर सिह बिष्ट पुत्र बाग सिह और बृजेश डिमरी पुत्र धर्मानंद डिमरी निवासी मोहल्ला कैलाश गेट ऋषिकेश थाना मुनिकीरेती जिला टिहरी को गिरफ्तार किया गया। उनके दो साथी फरार हो गए। मौके से पुलिस ने ढाई करोड़ रुपये (500 और 1000 रुपये) के पुराने नोट बरामद किए हैं।एसएसपी ने बताया कि पूछताछ में आरोपितों ने फरार साथियों का नाम गुरप्रेम निवासी गुलजारपुर हॉल सिह बैटरी वाला, कुंडेश्वरी ऊधमसिंहनगर और फौजी कॉलोनी, कुंडेश्वरी निवासी रंजीत सिह पुत्र सतनाम सिह बताया। बताया कि वे इस करेंसी को उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद से एकत्र कर लाए थे।गिरफ्त में आए आरोपितों ने बताया कि गुरप्रेम ने मुरादाबाद से करेंसी एकत्र की थी। उसी ने रंजीत सिंह को बातचीत के लिए कुंडेश्वरी बुलाया था। बृजेश डिमरी फरार आरोपित रंजीत की कार चलाकर लाया था। यह करेंसी बरेली ले जाई जानी थी। वहां उन्हें एक करोड़ रुपये की प्रतिबंधित करेंसी पर 10 लाख रुपये नई करेंसी मिलनी थी। करेंसी की गिनती के लिए पुलिस को बैंक से नोट गिनने की मशीन मंगानी पड़ी। गिनती में उसे तीन घंटे लग गए। पुलिस का मानना है कि करेंसी एकत्र करने वाले मुख्य आरोपितों के हत्थे चढ़ने के बाद ही इस राज से पर्दा उठ सकेगा।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

Ram Mandir निर्माण के लिए Rajasthan के लोगों ने दिया सबसे ज्यादा चंदा

जयपुर: विश्व हिंदू परिषद (VHP) के केंद्रीय उपाध्यक्ष और श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के …