मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> ब्राह्मण समाज द्वारा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का पुतला फूंका

ब्राह्मण समाज द्वारा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का पुतला फूंका

उज्जैन  22 सितम्बर 2018 । राजनेतिक दल के शंखनाद के साथ अब समाज स्तर पर भी आंदोलनों के शंखनाद का गढ़ बन गया है करणी सेना के बाद ब्राहमण समाज ने आज महाकुम्भ का आयोजन महाकाल की नगरी में किये , जिसमे हजारो की संक्या में ब्राह्मण समाज के लोग शामिल हुए , आयोजन में समाज ने मुख्यमंत्री का पुतला भी फुका |
उज्जैन एक्टरोसिटी एक्ट के लागु होने के बाद सवर्ण समाज ने भाजपा के साथ साथ कांग्रेस और अन्य राजनेतिक दलों के नेताओ के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है , जिस तरह से महाकाल की नगरी से राजनेतिक दलों ने विधानसभा चुनाव का शंखनाद किया अब सरकार और राजनेतिक दलों के खिलाफ चल रहे आंदोलनों का शंखनाद भी हर संगठन उज्जैन से कर रहा है , करणी सेना की भव्य रैली के बाद आज ब्राहमण समाज ने भी राजनेतिक उत्थान को लेकर महाकुम्भ का आयोजन किया इस आयोजन में पूरी तरह से सवर्णों के खिलाफ लाये गए एक्ट पर चर्चा गूंजती रही , मंच पर मोजूद हर अतिथि ने एक्ट को लेकर जरुर कहा और भाजपा कांग्रेस को वोट ना देने की बात कही , ब्राहमण समाज के महाकुम्भ में 10 हजार से ज्यादा ब्राहमण समाज के लोग शामिल हुए , महाकुम्भ में ब्राहमण समाज ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह का पुतला भी जलाया और सवर्ण समाज के खिलाफ बोलने वाले सांसद चिंतामणि मालवीय विधायक मोहन यादव के साथ साथ मंत्री पारस जैन मुर्दाबाद के नारे भी लगाए | अब 30 सितम्बर को सपाक्स भी भोपाल में महा आन्दोलन करने जा रहा है |

एक और संत एससीएसटी एक्ट के खिलाफ मैदान में कूदे

एससी एसटी एक्ट के विरोध में एक और संत कूदे मैदान में । sc-st एक्ट के विरोध में देवकीनंदन ठाकुर के बाद अब गृहस्थ संत देव प्रभाकर शास्त्री दद्दा जी आए मैदान में ।

सन्त बोले देश की शीर्ष अदालत को चुनोती देकर केंद्र सरकार लाई अध्यादेश,ऐसी सरकार का हम नहीं करते समर्थन,हम sc-st एक्ट का जो निर्णय अदालत का है हम उसके समर्थन में है लेकिन सरकार के अध्यादेश के पक्ष में नहीं है हम,छतरपुर जिले के नौगांव में आयोजित पार्थिव शिवलिंग निर्माण कार्यक्रम में आए हैं दद्दा जी।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

टूटे सारे रिकॉर्ड, 10 बिंदुओं में जानिए क्यों आ रहा जोरदार उछाल

नई दिल्ली 24 सितम्बर 2021 । घरेलू शेयर बाजार में शानदार तेजी का सिलसिला जारी …