मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> MP में शराब बंदी को लेकर उमा ने बोली क्रिकेट की भाषा, बैकफुट-फ्रंटफुट से नहीं बात करके समाधान निकालेंगी

MP में शराब बंदी को लेकर उमा ने बोली क्रिकेट की भाषा, बैकफुट-फ्रंटफुट से नहीं बात करके समाधान निकालेंगी

भोपाल 22 फरवरी 2022 । मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने एकबार फिर राज्य में शराब बंदी के अपने इरादे को दोहराया है और कहा कि वे यहां शराब बंदी करवाकर रहेंगी। मगर उन्होंने इस बार क्रिकेट की भाषा में बैकफुट-फ्रंटफुट की बोली बोलकर इस दिशा में बातचीत से समाधान निकालने की बात कही है। शराब बंदी को लेकर उमा भारती ने 15 जनवरी के बाद अभियान चलाने का ऐलान किया था और इसके बाद नर्मदा जयंती पर 14 फऱवरी के बाद इसके खिलाफ बोलने और काम करने की घोषणा की थी। अब वे उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के प्रचार अभियान में जुट गई हैं जिससे ब्रेक लेकर वे रविवार को छतरपुर के गंज गांव पहुंची थी। आज वे अपनी मां की पुण्यतिथि पर गृह गांव डूंडा में हैं।

डूंडा में बोलीं शराब बंदी पर बातचीत से समाधान
मां की पुण्यतिथि पर उमा भारती ने डूंडा गांव में कहा कि शराब बंदी शिवराजजी को शर्मिंदा करने से नहीं होगी। मगर यह भी कहा कि वे तो आपसी बातचीत से ही समाधान निकाल कर कई बार इस मामले में बैकफुट पर शर्मिंदा हो जाती हूं। उन्होंने कहा कि शराब बंदी कोई बैकफुट या फ्रंटफुट क्रिकेट का खेल नहीं है बल्कि करोड़़ों लोगों की जीवन रक्षा और महिलाओं की जीवन रक्षा का मुद्दा है। भारती ने कहा कि वे इसे अहंकार का मुद्दा नहीं बनाएंगी किंतु मध्य प्रदेश में शराब बंदी करवा कर रहेंगी।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

‘राजपूत नहीं, गुर्जर शासक थे पृथ्वीराज चौहान’, गुर्जर महासभा की मांग- फिल्म में दिखाया जाए ‘सच’

नयी दिल्ली 21 मई 2022 । राजस्थान के एक गुर्जर संगठन ने दावा किया कि …