मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> मोदी विरोधी बयान पर केंद्रीय मंत्री गडकरी ने दी सफाई, राहुल से पूछा- आपको मराठी कब से समझ आने लगी?

मोदी विरोधी बयान पर केंद्रीय मंत्री गडकरी ने दी सफाई, राहुल से पूछा- आपको मराठी कब से समझ आने लगी?

नई दिल्ली 11 अक्टूबर 2018 । मराठी टीवी चैनल के रियालिटी शो में दिए गए मोदी विरोधी बयान पर केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने सफाई दी है। उन्होंने आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए कहा, ‘मैंने मोदी जी और 15 लाख के संबंध में कुछ नहीं कहा। यह कार्यक्रम मराठी में था और मुझे आश्चर्य है कि राहुल जी कब से मराठी भाषा समझने लगे?’ गौरतलब है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गडकरी के इस बयान पर तंज कसते हुए ट्वीट किया था। ट्वीट में उन्होंने लिखा था, ‘सही फरमाया गडकरी जी, जनता भी यही सोचती है कि सरकार ने लोगों के सपनों और उनके भरोसे को अपने लोभ का शिकार बनाया है।’

कार्यक्रम में ये था गडकरी का कथित बयान

मोदी सरकार के सबसे कद्दावर मंत्रियों में शुमार गडकरी ने कथित तौर पर शो में कहा था, ‘सत्‍ता में आने के लिए साल 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा ने लोगों से झूठे वादे किए थे। हमें उम्‍मीद नहीं थी कि हम सत्‍ता में आएंगे। इसलिए हमें सलाह दी गई कि जनता से बड़े-बड़े वादे करो। अब हम सत्‍ता में आ गए हैं, तो लोग हमें हमारे वादे याद दिलाते हैं। लेकिन अब हम मुस्‍काराते हुए आगे बढ़ जाते हैं।’ गडकरी के इस बयान के बाद सियासी जगत में तहलका मच गया है। पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव और 2019 लोकसभा चुनाव को देखते हुए गडकरी के इस बयान ने भाजपा नेताओं की हालत खराब कर दी है।

पहले भी भाजपा को फंसा चुके हैं कई दिग्गज

उल्लेखनीय है कि यह पहला मौका नहीं है जब भाजपा नेताओं ने अपनी ही पार्टी के लिए मुसीबतें बढ़ाने वाला बयान दिया है। गडकरी से पहले पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह खुद भी 15 लाख रुपए अकाउंट में पहुंचाने की बात को चुनावी जुमला करार दे चुके हैं। दिग्गज नेताओं के ये बयान विरोधी दलों के लिए संजीवनी का काम कर रहे हैं। मौजूदा वीडियो में गडकरी और फिल्म अभिनेता नाना पाटेकर चर्चा कर रहे थे। यह वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

चार सांसदों को विधानसभा के रण में उतार सकती है भाजपा

भाजपा खराब परफॉर्मेंस वाले विधायकों और पिछली बार हारी हुई सीटों पर कुछ सांसदों को उतारने की तैयारी में है। पिछले दिनों दिल्ली में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कुछ सांसदों से मुलाकात कर उन्हें विधानसभा चुनाव में उतारने के संकेत दिए हैं।

हांलाकि पार्टी पहले सांसदों को विधानसभा चुनाव लड़ाने के मूड में नहीं थी, लेकिन बदली हुई परिस्थितियों में निर्णय बदलना पड़ा। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह जिताऊ उम्मीदवार ही भाजपा के टिकट वितरण का पैमाना है। इसी आधार पर पार्टी विधानसभा चुनावों में टिकट देगी।

नागेंद्र सिंह लड़ सकते हैं नागौद सीट से

खजुराहो सांसद नागेंद्र सिंह को पार्टी नागौद से विस चुनाव लड़ाने की तैयारी कर रही है। इस सीट से पिछली बार नागेंद्र सिंह के पुत्र गागनेंद्र प्रताप सिंह चुनाव लड़े थे, लेकिन वे कांग्रेस के यादवेंद्र सिंह से 10 हजार से ज्यादा मतों से हार गए थे। नागेंद्र सिंह को नागौद से चुनाव लड़ाकर भाजपा विंध्य की अन्य सीटों पर क्षत्रीय मतदाताओं को साध सकती है।

उज्जैन की घट्टिया सीट से चिंतामन का नाम

उज्जैन जिले की घट्टिया सीट से उज्जैन सांसद चिंतामन मालवीय का नाम तेजी से उभरा है। उनके लिए एक बड़े नेता ने दिल्ली में लॉबिंग की है। मौजूदा विधायक सतीष मालवीय मारपीट के एक हमले में आरोपी थे, हालांकि हाईकोर्ट की इंदौर बैंच ने 5 अक्टूबर को उन्हें राहत दे दी है, लेकिन पार्टी उनकी खराब छवि के चलते चेहरा बदलना चाहती है।

सिलवानी से लड़ सकते हैं सांसद यादव

सागर सांसद लक्ष्मीनारायण यादव को पार्टी सिलवानी से चुनाव लड़ाने का मन बना रही है। सिलवानी के वर्तमान विधायक और पीडब्ल्यूडी मंत्री रामपाल सिंह को पार्टी उदयपुरा भेज सकती है। केंद्रीय संगठन महामंत्री रामलाल ने भोपाल में यादव से कहा था कि वे सिलवानी के दौरे करें। यादव को सिलवानी से लड़ाकर पार्टी यादव वोटरों का साध सकती है।

जनार्दन मिश्रा कर रहे सेमरिया की तैयारी

रीवा के सांसद जनार्दन मिश्रा को भी भाजपा चुनाव लड़ा सकती है। उन्हें सेमरिया सीट से मैदान में उतारा जा सकता है। सेमरिया की विधायक नीलम मिश्रा, पार्टी छोड़कर कांग्रेस में जा चुके अभय मिश्रा की पत्नी हैं। वे चुनाव न लडऩे का ऐलान कर चुकी हैं। अभय के सेमरिया में प्रभाव को देखते हुए पार्टी वहां ब्राह्मण उम्मीदवार के रूप में मिश्रा को भेज सकती है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

आयुष्मान भारत ने लाखों लोगों को गरीबी के दलदल में फंसने से बचाया: पीएम नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली 27 सितम्बर 2021 । पीएम नरेंद्र मोदी ने सोमवार को आयुष्मान भारत डिजिटल …