मुख्य पृष्ठ >> अंतर्राष्ट्रीय >> अमेरिका ने सख्त किए नियम, भारतीयों को लगेगा झटका

अमेरिका ने सख्त किए नियम, भारतीयों को लगेगा झटका

नई दिल्ली 4 नवम्बर 2018 । अमेरिकी सरकार ने एच-1बी वीजा आवेदन के नियम और सख्त कर दिए हैं जिसके तहत अमेरिकी नियोक्ताओं को यह जानकारी देनी होगी कि उनके यहां कितने विदेशी काम कर रहे हैं। इससे एच-1बी आवेदन की प्रक्रिया सख्त हो जायेगी।

एच-1बी वीजा अस्थायी नौकरी के लिए होता है। इसके तहत अमेरिकी कंपनियां तकनीकी विशेषज्ञता रखने वाले विदेशियों को नियुक्त करती है। यह वीजा भारतीय आईटी पेशेवरों के बीच खासा लोकप्रिय है।

श्रम विभाग द्वारा मांगी गयी नयी जानकारियां इसलिये भी महत्वपूर्ण है क्योंकि एच-1बी वीजा के तहत विदेशी कर्मचारी को रखने से पहले कंपनी को श्रम विभाग से मंजूरी लेने की जरुरत होगी।

विभाग यह सत्यापित करेगा कि इस खास पद के लिए स्थानीय स्तर पर कोई उपयुक्त् व्यक्ति नहीं मिल रहा है और इसलिये कंपनी एच-1बी वीजा श्रेणी के तहत विदेशी कर्मचारी को नियुक्त कर सकती है।

श्रमिक आवेदन फार्म में अब नियोक्ताओं को एच-1 बी से जुड़ी रोजगार शर्तों के बारे में अधिक जानकारी देनी होगी। जिसमें एच-1बी वीजा कर्मचारियों के लिये कहां-कहां रोजगार है, उन्हें कितने समय के लिये रखा जायेगा और किन-किन जगहों पर एच-1 बी वीजा कर्मचारियों के लिये कितने रोजगार हैं।

नये नियमों के तहत नियोक्ताओं को यह भी बताना होगा कि उसके सभी स्थानों पर कुल कितने विदेशी कर्मचारी पहले से काम रहे हैं।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

भस्मासुर बना तालिबान, अपने ही सुप्रीम लीडर अखुंदजादा का कत्ल; मुल्ला बरादर को बना लिया बंधक

नई दिल्ली 21 सितम्बर 2021 । अफगानिस्तान में सत्ता पाने के बाद आपस में खूनी …