मुख्य पृष्ठ >> अंतर्राष्ट्रीय >> पाक सेना से बच US भागी महिला कार्यकर्ता, किए थे दहलाने वाले खुलासे

पाक सेना से बच US भागी महिला कार्यकर्ता, किए थे दहलाने वाले खुलासे

नई दिल्ली 21 सितम्बर 2019 । पाकिस्तान भले ही पूरी दुनिया में भारत का विरोध करता घूम रहा हो लेकिन सच तो ये है कि मानवाधिकारों के उल्लंघन को लेकर पाकिस्तान खुद कटघरे में रहता है. अब पाकिस्तान के अंदर राजद्रोह का सामना कर रहीं महिला कार्यकर्ता गुलालाई इस्माइल अमेरिका भाग गई हैं और वहां पहुंचकर पाकिस्तान की सच्चाई बता रही हैं.
दरअसल, गुलालाई इस्माइल ने पाकिस्तानी सुरक्षा बलों द्वारा यौन शोषण की दिल दहला देने वाली घटनाओं को उजागर किया था. गुलालाई द्वारा पाकिस्तान में किए जा रहे ऐसे कार्यों की वजह से उनके खिलाफ देशद्रोह के आरोप लगाए गए हैं.
इसी बीच गुलालाई ने अमेरिका में राजनीतिक शरण के लिए भी आवेदन कर दिया है. गुलालाई ने कहा है कि मैं सिर्फ इतना कह सकती हूं कि मैंने किसी एयरपोर्ट से उड़ान नहीं भरी है क्योंकि मेरे पाकिस्तान ने निकलने की कहानी कुछ लोगों के जीवन को खतरे में डाल देगी.
उधर न्यूयॉर्क के डेमोक्रेट सीनेटर चार्ल्स शूमर ने कहा कि गुलालई के शरण अनुरोध का मैं जरूर समर्थन करूंगा क्योंकि अगर वे पाकिस्तान जाएंगी तो उनका जीवन खतरे में पड़ जाएगा.

गुलालाई को पाकिस्तान में सिर्फ इसलिए निशाना बनाया जा रहा है क्योंकि उन्होंने पाकिस्तानी सेना द्वारा किए जा रहे मानवाधिकारों के हनन को उजागर करने की कोशिश की है.

न्यूयॉर्क टाइम्स के अनुसार, इस मामले पर अभी तक पाकिस्तान के किसी भी सरकारी अधिकारी ने बयान नहीं दिया है. हालांकि सुरक्षा अधिकारियों ने यह जरूर कहा कि उन्हें शक था कि इस्माइल देश छोड़कर भाग गई हैं.

पाकिस्तानी समाचार एजेंसी डॉन के मुताबिक पिछले साल नवंबर में, इस्लामाबाद उच्च न्यायालय को सूचित किया गया था कि गुलालाई की कथित राज्य विरोधी गतिविधियों के लिए आईएसआई ने उनका नाम एग्जिट कंट्रोल लिस्ट (ईसीएल) में रखने की सिफारिश की थी.

गुलालाई ने ईसीएल में अपना नाम डालने के सरकार के फैसले के खिलाफ कोर्ट में चुनौती दी थी. इसके बाद इस्लामाबाद उच्च न्यायालय ने उनका नाम सूची से हटाने का आदेश दे दिया था.

हालांकि अदालत ने मंत्रालय को गुलालाई पर उचित कार्रवाई करने की अनुमति दे दी थी, जिसमें आईएसआई की सिफारिश पर गुलालाई के पासपोर्ट को जब्त करना भी शामिल था.

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

किश्तवाड़ में बादल फटने से पांच की मौत, 40 से ज्यादा लोग लापता

नई दिल्ली 28 जुलाई 2021 ।  जम्मू-कश्मीर में भारी बारिश का कहर देखने को मिला …