मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> वालमार्ट करेगा फ्लिपकार्ट में नई भर्तियां

वालमार्ट करेगा फ्लिपकार्ट में नई भर्तियां

नई दिल्ली 18 नवम्बर 2018 । फ्लिपकार्ट के सह संस्थापक बिन्नी बंसल की कंपनी से विदाई और सहयोगी कंपनियों मिंत्रा व जबोंग से कई लोगों की छंटनी होने की खबरों के बीच जल्द वालमार्ट अब नई भर्तियां करेगा। कंपनी वरिष्ठ पदों के अलावा मीडिल और जूनियर लेवल पर भी लोगों को रखेगा। वरिष्ठ पदों पर जो लोग रखें जाएंगे उनकी सालाना सैलरी 5 करोड़ रुपये से ज्यादा होगी।

इन विभागों में होंगी नई नियुक्तियां

जिन विभागों में कंपनी नई नियुक्तियां करेगा उनमें सप्लाई चेन मैनेजमेंट, टेक्नोलॉजी, मार्केटिंग, एचआर और प्रोडक्ट शामिल हैं। इसके अलावा वालमार्ट अमेरिका सहित अन्य देशों से भी अपने कई वरिष्ठ कर्मचारियों को भारत में ट्रांसफर करेगा ताकि भारतीय कंपनी का वालमार्ट के ग्लोबल प्रोसेस से अच्छा तालमेल बना रहे।

अमेजन से ले जाना है आगे

कंपनी फ्लिपकार्ट को भारत की नंबर एक ई-कॉमर्स कंपनी बनाना चाहती है। भारत में कंपनी की मुख्य प्रतिद्वंदी अमेजन है। इसलिए वालमार्ट फ्लिपकार्ट में नई भर्तियां करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रही है। इसके लिए अगर कंपनी को मोटी सैलरी पर लोगों को रखना पड़ा तो भी वो ऐसा करेगी। इसलिए कंपनी ने किसी भी पद के लिए सैलरी की कोई अधिकतम सीमा नहीं रखी है।

वालमार्ट करेगी 16 बिलियन डॉलर खर्च

वालमार्ट फ्लिपकार्ट के जरिए भारत में 16 बिलियन डॉलर का निवेश करेगी। इसलिए कंपनी इंडस्ट्री में मौजूद बेस्ट टैलेंट को रखने के लिए किसी भी कीमत पर पैसा खर्च करने के लिए तैयार है।

मिंत्रा-जबॉन्ग का होगा विलय, नारायणन बने रहेंगे सीईओ

ऑनलाइन फैशन रिटेलर मिंत्रा ने शुक्रवार को कहा कि वह अपनी सहायक कंपनी जबॉन्ग का पूरी तरह विलय करेगी। हालांकि, यह अलग ब्रांड के रूप में परिचालन करती रहेगी। मिंत्रा के सीईओ अनंत नारायणन मिंत्रा-जबॉन्ग टीम का नेतृत्व करेंगे। कंपनी ने अपने बयान में यह जानकारी देकर नारायणन के इस्तीफे की अटकलों पर विराम लगा दिया।

कंपनी ने कहा कि मिंत्रा द्वारा जबॉन्ग के अधिग्रहण के बाद से दोनों ब्रांड लगातार अपने प्रमुख कारोबारी कामकाज का एकीकरण कर रहे हैं। प्रक्रियाओं में सामंजस्य बैठा रहे हैं। आने वाले समय में मिंत्रा-जबॉन्ग अपने शेष बचे हुए कामकाज का पूरी तरह एकीकरण करेंगे।

इसमें प्रौद्योगिकी, विपणन, श्रेणी, राजस्व, वित्त और रचनात्मक टीमें शामिल हैं। कंपनी ने कहा कि कारोबार के रूप में मिंत्रा की स्वतंत्रता को कायम रखा जाएगा। टीम स्वतंत्र रूप से काम करेगी।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

मोदी सरकार के आर्थिक सुधार कार्यक्रमों के सुखद परिणाम अब नजर आने लगे हैं

नई दिल्ली 20 सितम्बर 2021 । वर्ष 2014 में केंद्र में मोदी सरकार के स्थापित …