मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> सिंधिया ने यह क्या किया …?

सिंधिया ने यह क्या किया …?

भोपाल 26 नवम्बर 2019 । पूर्व केंद्रीय मंत्री और मध्यप्रदेश के असंतुष्ट कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने एक बड़ा कदम उठा लिया है। उन्होंने अपने ट्वीट अकाउंट से कई महत्वपूर्ण जानकारियां हटा दी है।कांग्रेस के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपनी ट्विटर की प्रोफ़ाइल से कांग्रेस के पदों का ज़िक्र हटा दिया है । उन्होंने अपनी प्रोफ़ाइल में खुद को जनसेवक और क्रिकेट प्रेमी बताया है। अब तक सिंधीया की प्रोफाइल में उनके कांग्रेस के सभी पदों का जिक्र किया हुआ था। इस प्रोफाइल में लिखा हुआ था कि वह कब केंद्र में मंत्री रहे। उसके साथ ही कांग्रेस में उन्हें सौंपी गई विभिन्न जिम्मेदारियों का ब्योरा भी इस प्रोफाइल में दर्ज था ।

अब यह सब कुछ सिंधिया के द्वारा हटा दिए जाने के राजनीतिक क्षेत्रों में मायने ढूंढे जा रहे हैं। ध्यान रहे कि सिंधिया इस समय मध्यप्रदेश में असन्तुष्ट कांग्रेस नेताओं में माने जाते हैं । पहले प्रदेश में मुख्यमंत्री पद के वे दावेदार थे लेकिन उनकी दावेदारी को नकार दिया गया । इसके बाद उनके द्वारा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के पद पर दावा जताया गया लेकिन उस मामले को भी कांग्रेस हाईकमान के द्वारा होल्ड पर रख दिया गया है। पिछले काफी समय से यह चर्चा चल रही है कि सिंधिया भाजपा में जा सकते हैं । इन्हीं चर्चाओं के बीच इंडिया के द्वारा आज यह बड़ा कदम उठाया गया है।
महाराष्ट्र के संकट के बीच उठाया कदम

सिंधिया द्वारा यह कदम ऐसे नाजुक समय पर उठाया गया है जब महाराष्ट्र मे सत्ता का संघर्ष चल रहा है। महाराष्ट्र के संकट का समाधान भी नहीं हो पा रहा है। इसी बीच संध्या के द्वारा कांग्रेस के सभी पदों की जानकारी हटाने से यह चर्चा तेज हो गई है कि महाराष्ट्र के संकट के बीच ही कहीं मध्य प्रदेश से भी संकट पैदा ना हो जाए।

ज्योतिराज सिंधिया का कांग्रेस से मोहभंग आखिर क्या है रणनीति…?

पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ट्विटर पर अपना बायो बदल दिया है. अब उनका बायो लोक सेवक और क्रिकेट प्रेमी हो गया है. इससे पहले सिंधिया के ट्विटर प्रोफाइल में पूर्व केंद्रीय मंत्री, पूर्व सांसद और कांग्रेस महासचिव लिखा हुआ था. अब ज्योतिरादित्य सिंधिया के ट्विटर प्रोफाइल बदलने से कई सवाल खड़े हो रहे हैं कि उन्होंने ऐसा क्यों किया? ज्योतिरादित्य सिंधिया के ट्विटर प्रोफ़ाइल में कहीं भी कांग्रेस पार्टी का ज़िक्र नहीं है.

आपको बता दें कि ज्योतिरादित्य सिंधिया के हाल के दिनों में कई ऐसे बयान आए थे जिससे ये लग रहा था कि उनके और कांग्रेस पार्टी के बीच सबकुछ ठीक नहीं है. सिंधिया ने कर्जमाफी, बाढ़ राहत राशि के लिए सर्वे और बिजली कटौती के मामले में खुद की पार्टी वाली कमलनाथ सरकार को कटघरे में खड़ा किया था जिसकी वजह से बीजेपी को कमलनाथ सरकार पर हमला करने के कई मौके मिले.

व्यापमं घोटाले में दोषियों को सुनाई गई सजा,30 लोगों को 7 साल की सजा, एक दोषी को 10 साल की कैद
भोपाल की एक विशेष CBI अदालत ने बहुचर्चित व्यापमं घोटाले में बड़ी कार्रवाई की है. कोर्ट ने व्यापमं घोटाले से जुड़े 2013 के पुलिस कांस्टेबल भर्ती घोटाले में 30 दोषियों को 7 साल की सजा सुनाई है. वहीं, प्रदीप त्यागी नाम के दोषी को 10 साल जेल की सजा सुनाई गई है.बता दें कि पिछले हफ्ते ही मामले में सुनवाई करते हुए सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने कुल 31 आरोपियों को पुलिस आरक्षक भर्ती घोटाले का दोषी माना था. सीबीआई के विशेष न्यायाधीश एसबी साहू ने दोषियों को सजा सुनाई.

व्यापमं में गड़बड़ी का बड़ा खुलासा सात जुलाई, 2013 को पहली बार पीएमटी परीक्षा के दौरान तब हुआ, जब एक गिरोह इंदौर की अपराध शाखा की गिरफ्त में आया. यह गिरोह पीएमटी परीक्षा में फर्जी विद्यार्थियों को बैठाने का काम करता था. मुख्यमंत्री चौहान ने इस मामले को अगस्त 2013 में एसटीएफ को सौंप दिया. हाई कोर्ट ने मामले का संज्ञान लिया और उसने हाई कोर्ट के रिटायर्ड जज चंद्रेश भूषण की अध्यक्षता में अप्रैल 2014 में एसआईटी गठित की, जिसकी देखरेख में एसटीएफ़ जांच करता रही. नौ जुलाई, 2015 को मामला सीबीआई को सौंपने का फैसला हुआ और 15 जुलाई से सीबीआई ने जांच शुरू की.सरकार के पूर्व मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा, उनके ओएसडी रहे ओपी शुक्ला, बीजेपी नेता सुधीर शर्मा, राज्यपाल के ओएसडी रहे धनंजय यादव, व्यापमं के नियंत्रक रहे पंकज त्रिवेदी, कंप्यूटर एनालिस्ट नितिन मोहिद्रा जेल जा चुके हैं. इस मामले में दो हजार से अधिक लोग जेल जा चुके हैं, और चार सौ से अधिक अब भी फरार हैं. वहीं 50 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है.

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

राहुल ने जारी किया श्वेतपत्र, बोले- तीसरी लहर की तैयारी करे सरकार

नई दिल्ली 22 जून 2021 । कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस …