मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> नहीं होने देंगे पढ़ाई का नुकसान, रमेश पोखरियाल निशंक

नहीं होने देंगे पढ़ाई का नुकसान, रमेश पोखरियाल निशंक

भोपाल 28 अप्रैल 2020 । सरकार ने कहा है कि लॉकडाउन के कारण स्कूल, कॉलेज बंद होने की वजह से छात्रों की पढ़ाई का नुकसान नहीं होने देगी। मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने सोमवार को 20 हजार से अधिक छात्रों और अभिभावकों के साथ ट्विटर पर संवाद किया।

निशंक ने अभिभावकों को भरोसा दिलाया कि पूरी दुनिया एक वायरस से लड़ रही है। हालांकि हम छात्रों की पढ़ाई का नुकसान नहीं होने देंगे। लॉकडाउन के दौरान ऑनलाइन और बाद में कक्षाओं में पाठ्यक्रम पूरा करवाया जाएगा।

ट्विटर पर एक बजे शुरू हुए संवाद के जरिए निशंक ने मंत्रालय द्वारा ऑनलाइन पढ़ाई की विभिन्न योजनाओं की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि देश के करीब 33 करोड़ छात्र कभी भी और कहीं से भी इन ऑनलाइन कक्षाओं से जुड़ सकते हैं। अभिभावकों के लिए यह समय मुश्किल भरा है, क्योंकि उन्हें अपने बच्चों की पढ़ाई और भविष्य की चिंता है।

ऑनलाइन शिक्षा नीति को सुदृढ़ बनाने के लिए भारत पढ़े ऑनलाइन अभियान की शुरुआत की गई है। इसमें दस हजार से अधिक सुझाव मिले हैं। जल्द ही इस पर दिशा-निर्देश जारी किए जाएंगे।

पटना के एक अभिभावक द्वारा एनसीईआरटी पुस्तकों की उपलब्धता के सवाल पर मंत्री ने कहा कि एनसीईआरटी ने लगभग सभी राज्यों में पुस्तकें भेज दी हैं। छात्रों को जल्द ये पुस्तकें उपलब्ध हो जाएंगी।

हालात ठीक होते ही सीबीएसई बोर्ड के बचे छात्रों की परीक्षा आयोजित करेगा।

दीक्षा प्लेटफार्म पर 80 हजार से अधिक पाठ्य सामग्री है। लॉकडाउन में करीब 12 करोड़ छात्रों ने इसका इस्तेमाल किया। शिक्षा का नुकसान कम करने के लिए एनसीईआरटी ने वैकल्पिक एकेडमिक कैलेंडर बनाया है।
वहीं, सीबीएसई के स्कूलों के लिए भी नया शैक्षणिक कैलेंडर बनेगा।

सीबीएसई की 10वीं और 12वीं की बची हुई परीक्षाएं आयोजित कराने के सवाल के जवाब में केंद्रीय मंत्री पोखरियाल ने कहा कि हालात सामान्य होने पर मुख्य विषयों के 29 पेपर्स की परीक्षाओं का आयोजन किया जाएगा।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

फतह मुबारक हो मुसलमानो, भारत के खिलाफ जीत इस्लाम की जीत…जश्न मनाने के बदले जहर उगलने लगा पाक

नई दिल्ली 25 अक्टूबर 2021 । खराब बल्लेबाजी और खराब गेंदबाजी की वजह से टीम …