मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> “हां मेरी पत्नी के पास चार ट्रक हैं”- शिवराज की हकीकत

“हां मेरी पत्नी के पास चार ट्रक हैं”- शिवराज की हकीकत

नई दिल्ली 15 नवम्बर 2018 । “मानहानि के मुक़दमे” शिवराज का sympathy card क्यों होते हैं….“देखो देखो..इनने मुझे मारा” ! यह शैली शिवराज सिंह की राजनीति का प्रमुख हिस्सा है…जब जब भी शिवराज सिंह पर राजनीतिक संकट आए हैं या उन पर सरकार में रहते हुए भ्रष्टाचार के आरोप लगे वह हमेशा अंतिम हथियार के रूप में “sympathy card” या सहानुभूति पाने का “धतकरम” करते हैं ।

याद करिए किस तरह से “डंपर कांड” में नाम आने के बाद शिवराज सिंह का यह बयान आया था कि —”हां मेरी पत्नी के पास चार ट्रक हैं…. लेकिन मुख्यमंत्री की धर्मपत्नी जीविकोपार्जन करने के लिए क्या कोई व्यापार नहीं कर सकती”। इसी तरह याद करिए पिछले चुनावों के दौरान जब नेता-प्रतिपक्ष अजय सिंह ने एक भाषण में यह कह दिया की “मुख्यमंत्री निवास पर नोट गिनने की मशीन है और गुटका लॉबी का पैसा वहां जाता है” तब मुख्यमंत्री ने चुनाव छोड़ कर भोपाल के कोर्ट में आकर मानहानि का मुकदमा दर्ज कराया था। चुनाव हो भी गए….परिणाम भी आ गए। लेकिन मानहानि का मुकदमा आज भी चल रहा है।

इसी तरह व्यापम कांड में याद करिए कि किस तरह से केके मिश्रा जैसे नेता को मानहानि के मुकदमे में उलझाया था। उसके बाद जिस तरह से प्रचारित किया गया उससे शिवराज सिंह ने अपने आप को “मिस्टर-क्लीन” जताने की कोशिश की।

यह बात अलग है कि शिवराज सिंह खुद जरूर अपने आप को “मिस्टर-क्लीन” समझते रहें, लेकिन जनमानस, आरएसएस और उनके साथ के नेता शायद ही यह बात मानें! मानहानि के दावे, राजनीति में नई बात नहीं है लेकिन न्यायालयों के माध्यम से राजनीति करने की शैली को मुख्यमंत्री जी नई ऊंचाइयों तक पहुँचाया है।

पहली बार राहुल गांधी का पाला शिवराज सिंह से पड़ा है, उनको को भी पता चलेगा कि कांग्रेस के प्रदेश के नेता आखिर पिछले 13 सालों से किससे जूझ रहे थे, शिवराज क्या चीज़ है। वैसे मैं शिवराज जी को “मध्यप्रदेश की राजनीति के चाणक्य” की उपमा देता हूँ…… क्योंकि उनके अलावा “काठ की हांडी बार-बार चढ़ाने” की कला और कोई नही जानता !

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

भारत में कोरोना का सबसे बड़ा अटैक, एक दिन में पहली बार 2 लाख 34 हजार नए केस

नई दिल्ली 17 अप्रैल 2021 । कोरोना की दूसरी लहर हर दिन नए रिकॉर्ड बना …