मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> जरायल ने दो ईरानी वैज्ञानिकों को जहर देकर मार डाला! परमाणु कार्यक्रम से क्या है संबंध?

जरायल ने दो ईरानी वैज्ञानिकों को जहर देकर मार डाला! परमाणु कार्यक्रम से क्या है संबंध?

नयी दिल्ली 14 जून 2022 । ईरान में दो युवाओं की मौत के बाद से हलचल बढ़ गई है। मई महीने के अंत में अचानक से बीमार पड़ने से पहले दोनों युवा स्वस्थ थे। इन दोनों ने ईरान के टॉप यूनिवर्सिटी से पढ़ाई की थी। करीब 650 किलोमीटर दूर अलग-अलग शहरों में हॉस्पिटल के आईसीयू विभाग में इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। ईरान का कहना है कि इजरायल ने दोनों को जहर देकर मारा है। दोनों युवाओं के बारे में जानिए

जिन दो युवा लोगों की मौत हुई है उनमें से एक अयूब एंतेजारी एरोनॉटिकल इंजीनियर और दूसरे कामरान अघमोलेई जियोलॉजिस्ट थे। ईरानी मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कामरान ईरान के नतांज परमाणु साइट में काम करते थे लेकिन उनके दोस्तों ने इससे इनकार करते हुए कहा है कि वह एक प्राइवेट जियोलॉजिकल रिसर्च कंपनी के लिए काम करते थे। अयूब तेहरान से करीब 600 किलोमीटर दूर यज़्द शहर में एक सरकारी एयरोस्पेस केंद्र के लिए मिसाइल और हवाई जहाज टर्बाइनों से संबंधित प्रोजेक्ट्स पर काम कर रहे थे।

एक सीनियर ईरानी अधिकारी ने न्यूयॉर्क टाइम्स से बातचीत में कहा है कि यज्द में डिनर करने के बाद कामरान को फूड पॉइजनिंग की दिक्कत हुई। डिनर पार्टी का मेजबान गायब का है अधिकारी उसकी तलाश में जुटे हुए हैं। यहां खाना खाने के बाद उनकी तबीयत बिगड़ती चली गई और मौत हो गई। पिछले दो हफ़्तों में संदेहास्पद स्थिति में हुई टॉप लोगों की मौत की सीरीज ने ईरान को झकझोर कर रख दिया है। हत्याओं पर इजरायल ने क्या कहा है?

इजरायली पीएम ऑफिस के प्रवक्ता ने ईरान में हाल में हुई मौतों पर कमेंट करने से इनकार कर दिया है। बता दें कि इजरायल ने ईरान के परमाणु कार्यक्रम को कमजोर करने से सालों से गुपचुप तरीके से काम किया है। इसी कड़ी में एक्सपर्ट्स की हत्याएं भी शामिल हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक इजरायल ने एडवांस ड्रोन और मिसाइल विकसित करने वाले ईरानी सैन्य स्थलों पर भी हमला किया है।

ईरान ने दुनिया भर में इजरायली नागरिकों को निशाना बनाने की कोशिश की है और लेबनन में हिजबुल्लाह जैसे संगठनों को इजरायल से लड़ने के लिए हर संभव मदद करता है। लेकिन दोनों पक्षों के बीच मुख्य संघर्ष परमाणु कार्यक्रम के इर्द-गिर्द ही है। ईरान के अंदर पहुंच बढ़ा रहा है इजरायल?

इजरायल इस बात से बेहद चिंतित है कि ईरान परमाणु हथियार बनाने के लिए यूरेनियम का जखीरा जमा कर रहा है। ईरान लंबे वक्त से कहता रहा है कि उसका परमाणु कार्यक्रम सिर्फ शांतिपूर्ण मकसद के लिए है। हालात को लेकर ईरानी विश्लेषक हेनरी रोम ने न्यूयॉर्क टाइम्स से बातचीत में कहा है कि इस तरह की गतिविधि तेज होने की संभावना है। ईरान इजरायल के करीब अपनी पहुंच बढ़ा रहा है और इजरायल ईरान के अंदर अपनी पहुंच बढ़ा रहा है।

हाल के दिनों में कई टॉप ईरानी विशेज्ञयों की मौत

ईरान में पिछले दो हफ्तों में शक्तिशाली रिवोल्यूशनरी गार्ड्स कॉर्प्स के एक सीनियर सदस्य सयाद खोदैई को तेहरान में निशाना बनाकर मार दिया गया। ड्रोन हमले में रक्षा मंत्रालय के एक युवा इंजीनियर की मौत हो गई और रिवोल्यूशनरी गार्ड्स के एक और सीनियर सदस्य बालकनी से संदिग्ध रूप से गिरे और उनकी मौत हो गई। अभी अब दो वैज्ञानिकों की मौत हो गई है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

अमित शाह के बयान पर नीतीश कुमार का तंज, बोले- इतिहास कोई कैसे बदल सकता है

नयी दिल्ली 14 जून 2022 । बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपनी सहयोगी पार्टी बीजेपी …